1. Home
  2. News And Views
  3. News
  4. सावधान! आधार कार्ड की जानकारी एकत्र करने वाली ये 8 वेबसाइट है फर्जी, UIDAI ने दर्ज कराई FIR

सावधान! आधार कार्ड की जानकारी एकत्र करने वाली ये 8 वेबसाइट है फर्जी, UIDAI ने दर्ज कराई FIR

UIDAI ने आधार कार्ड से संबंधित सेवाएं देने और अवैध रूप से लोगों से आधार संख्या और नामांकन विवरण लेने के आरोपों में 8 अनधिकृत वेबसाइट पर FIR दर्ज कराई हैं।

Ankit Tyagi | Apr 20, 2017 | 1:06 PM
सावधान! आधार कार्ड की जानकारी एकत्र करने वाली ये 8 वेबसाइट है फर्जी,  UIDAI ने दर्ज कराई FIR

नई दिल्ली। भारतीय विशिष्ट पहचान प्राधिकरण (UIDAI) ने आधार संबंधित सेवाएं देने और अवैध रूप से लोगों से आधार संख्या और नामांकन विवरण लेने के आरोपों में आठ अनधिकृत वेबसाइटों के खिलाफ FIR दर्ज कराई है। यह पहली मिसाल है जब प्राधिकरण की ओर से आधार संबंधित सेवाओं को देने की कोशिश करनेवाली धोखधड़ी और अवैध वेबसाइटों पर प्राथमिकयां दर्ज कराई जा रही हैं।

इन 8 वेबसाइट पर दर्ज हुई FIR

इन साइटों के नाम आधार अपडेट डॉट कॉम, आधार इंडिया डॉट कॉम, पीवीसी आधार डॉट कॉम, आधार प्रिंटर्स डॉट कॉम, गेट आधार डॉट कॉम, डाउनलोड आधार कार्ड डॉट इन, आधार कॉपी डॉट इन और ड्युप्लिकेट आधार कार्ड डॉट कॉम हैं। ये वेबसाइटें लोगों से अवैध तरीके से आधार संख्या और नामांकन विवरण ले रही थीं और यूआईडीएआई से अधिकृत संस्थाएं बनकर आधार संबंधी सेवाएं देने का वादा कर रही थीं।यह भी पढ़े: आधार सेवाओं के लिए पैसे वसूलने वाली एजेंसियों पर कसा शिकंजा, UIDAI ने किया 50 फर्जी वेबसाइट को बंद

UIDAI के CEO अजय भूषण पांडे ने कहा कि

हमने पाया कि कुछ अनधिकृत वेबसाइटों के बंद करने के आदेश के बाद नई वेबसाइटें बन गईं। इस बार हमने ऐसी वेबसाइटों के खिलाफ एक प्राथमिकी दर्ज कराई है। एआईडीएआई के मुताबिक अनधिकृत सेवाएं देने वाली इन वेबसाइटों और कंपनियों का आचरण सूचना प्रौद्योगिकी अधिनियम 2000, आधार अधिनियम 2016 की धारा 38 और भारतीय दंड संहिता की धारा 409 (अमानत में खयानत) और धारा 420 (धोखाधड़ी) के बराबर है।

आगे भी होगी सख्त कार्रवाई

पांडे ने कहा कि प्राधिकरण ऐसी साइटों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करना जारी रखेगी। उन्होंने लोगों से कहा कि वह आधार संबंधित किसी भी सेवा के लिए यूआईडीएआई की आधिकारिक वेबसाइट डब्ल्यू डब्ल्यू डब्ल्यू डॉट यूआईडीएआई डॉट जीओवी डॉट इन का ही इस्तेमाल करें।यह भी पढ़ें: आधार कार्ड बनाने वाली ये एजेंसियां है गैर कानूनी, सरकार ने जारी की चेतावनी

Write a comment