1. Home
  2. News And Views
  3. News
  4. भारत में कारोबारी माहौल पहले की तुलना में ज्यादा अनुकूल, निवेश बढ़ाएंगी स्वीडन की कंपनियां

भारत में कारोबारी माहौल पहले की तुलना में ज्यादा अनुकूल, निवेश बढ़ाएंगी स्वीडन की कंपनियां

भारत में कारोबारी माहौल आज पहले के मुकाबले काफी अनुकूल है और भारत में काम कर रही स्वीडन की कंपनियों की धारणा यहां कारोबार को लेकर काफी सकारात्मक है।

Abhishek Shrivastava | May 20, 2017 | 3:06 PM
भारत में कारोबारी माहौल पहले की तुलना में ज्यादा अनुकूल, निवेश बढ़ाएंगी स्वीडन की कंपनियां

नई दिल्ली। भारत में कारोबारी माहौल आज पहले के मुकाबले काफी अनुकूल है और भारत में काम कर रही स्वीडन की कंपनियों की धारणा यहां कारोबार को लेकर काफी सकारात्मक है। स्वीडन की ज्यादातर कंपनियों ने भारत में अपना निवेश बढ़ाने की मंशा जाहिर की है। स्वीडन-भारत व्यावसायिक वातावरण को लेकर किए गए नौवें सर्वेक्षण में यह निष्कर्ष सामने आया है।

भारत में स्वीडिश चैंबर ऑफ कॉमर्स हर साल व्यावसायिक माहौल को लेकर सर्वेक्षण करता है। इसमें भारत स्थित स्वीडन का दूतावास और मुंबई स्थित स्वीडन का महावाणिज्य दूतावास भी मदद करता है। इस बार किए गए सर्वेक्षण में भारत में काम कर रही 170 स्वीडिश कंपनियों में से 160 ने भाग लिया। ये कंपनियां ज्यादातर कर्नाटक, महाराष्ट्र, तमिलनाडु और दिल्ली-एनसीआर में हैं। यह भी पढ़ें: अब एक दिन में मिलेगा PAN और TAN नंबर, बिजनेस को आसान बनाने के लिए CBDT ने उठाया कदम

पिछले दो साल के दौरान स्वीडिश कंपनियों और निवेशकों के रोजगार में 20 प्रतिशत तक वृद्धि हुई है। स्वीडन विदेश मंत्रालय में यूरोपीय संघ मामलों और व्यापार मंत्री एन लिंडे ने सर्वेक्षण पर कहा, भारत और स्वीडन के बीच व्यापार बढ़ रहा है। हमें भारत में ऊर्जा, पर्यावरण, स्मार्ट सिटी, दूरसंचार, सूचना प्रौद्योगिकी और डिजिटाइजेशन, स्वास्थ्य और जीव विज्ञान के क्षेत्र में काम रही कंपनियों के लिए काफी संभावनाएं दिखाई देती हैं।

भारत में व्यावसायिक वातावरण आज पहले के मुकाबले काफी सकारात्मक है। दस में से आठ कंपनियों ने अगले साल भी निवेश की मंशा जताई है। भारत में काम कर रही स्वीडन की कंपनियां यहां दीर्घकालिक वृद्धि और विकास को लेकर प्रतिबद्ध हैं। इनमें 1,85,000 लोग प्रत्‍यक्ष रूप से और 13,00,000 लोग अप्रत्यक्ष रूप से जुड़े हुए हैं। भारत में स्वीडन के राजदूत हेराल्ड सेंडबर्ग ने इस अवसर पर कहा कि भारत-स्वीडन के रिश्ते लगातार मजबूत हुए हैं। सर्वेक्षण से हमारी यह धारणा और मजबूत हुई है कि स्वीडन के नवोन्मेष और भारत की भविष्य की जरूरतों के बीच बेहतर तालमेल बैठता है।

Write a comment