1. Home
  2. News And Views
  3. News
  4. प्रधानमंत्री आवास योजना में सिर्फ दो लाख रुपए में बनेगा इस्पात का घर, देश में बढ़ेगी स्टील की खपत

प्रधानमंत्री आवास योजना में सिर्फ दो लाख रुपए में बनेगा इस्पात का घर, देश में बढ़ेगी स्टील की खपत

केंद्रीय इस्पात मंत्री चौधरी बीरेंद्र सिंह ने कहा कि प्रधानमंत्री आवास योजना (पीएमएवाई) के अंतर्गत सिर्फ दो लाख रुपए में इस्पात का घर बनाया जा सकता है।

Dharmender Chaudhary | May 23, 2017 | 7:10 PM
प्रधानमंत्री आवास योजना में सिर्फ दो लाख रुपए में बनेगा इस्पात का घर, देश में बढ़ेगी स्टील की खपत

नई दिल्ली। केंद्रीय इस्पात मंत्री चौधरी बीरेंद्र सिंह ने कहा कि प्रधानमंत्री आवास योजना (पीएमएवाई) के अंतर्गत सिर्फ दो लाख रुपए में इस्पात का घर बनाया जा सकता है। सिंह ने अपने मंत्रालय की तीन साल की पहलों और उपलब्धियों पर चर्चा करते हुए कहा कि राष्ट्रीय इस्पात नीति (एनएसपी) में सिर्फ देश की इस्पात क्षमता को 30 करोड़ टन तक पहुंचाने का लक्ष्य ही नहीं है, बल्कि इसमें इस्पात का उपभोग बढ़ाने पर भी जोर दिया गया है। इसके लिए विविधीकरण और परियोजनाओं में इस्पात का अधिकतम इस्तेमाल करने की जरूरत है। यह भी पढ़ें: RBI ने किया लोन डिफॉल्‍टर्स के नाम बताने से इनकार, सुप्रीम कोर्ट के आदेश को किया दरकिनार

सिंह ने कहा कि पीएमएवाई के तहत आवंटन 1.5 लाख रुपए है, पहाड़ी राज्यों के लिए यह 1.6 लाख रुपए है। ग्रामीण विकास मंत्रालय ने बैंकों के साथ 70,000 रुपए के लिए गठजोड़ करने का भरोसा दिलाया है। इस लिहाज से आवंटन दो लाख रुपए से ऊपर पहुंच जाएगा। इस्पात से बनने वाले मकानों पर सामान्य तौर पर दो लाख रुपए की लागत आएगी।

उन्होंने कहा कि इन मकानों से देश में न केवल इस्पात की खपत बढ़ेगी और बुनियादी ढांचा आगे बढ़ेगा, बल्कि यह कुछ अधिक मजबूत और टिकाऊ भी होंगे।  मंत्री ने कहा, ये घर न केवल कम कीमत के होंगे, बल्कि इनका निर्माण भी तेजी से किया जा सकेगा। हमने गंगटोक में ऐसे मकान देखे हैं। हमने यह भी चर्चा की है कि क्या हम भी इस्पात ढांचे का इस्तेमाल कर उनका टिकाउपन बढ़ा सकते हैं। यह भी पढ़ें: भारतीय बाजार में Tesla कार का रास्‍ता हुआ साफ, सरकार ने कहा 30 फीसदी लोकल सोर्सिंग नहीं है अनिवार्य

Write a comment