1. Home
  2. News And Views
  3. News
  4. मोबाइल वॉलेट के जरिये ATM से पैसे निकलाने की सुविधा देगा SBI, लगेगा 25 रुपए का शुल्‍क

मोबाइल वॉलेट के जरिये ATM से पैसे निकलाने की सुविधा देगा SBI, लगेगा 25 रुपए का शुल्‍क

सार्वजनिक क्षेत्र का भारतीय स्टेट बैंक (SBI) एक नई सुविधा शुरू करने जा रहा है, जिसमें बैंक के मोबाइल वॉलेट का इस्तेमाल कर एटीएम से पैसा निकाला जा सकेगा।

Abhishek Shrivastava | May 11, 2017 | 8:18 PM
मोबाइल वॉलेट के जरिये ATM से पैसे निकलाने की सुविधा देगा SBI, लगेगा 25 रुपए का शुल्‍क

मुंबई। सार्वजनिक क्षेत्र का भारतीय स्टेट बैंक (SBI) एक नई सुविधा शुरू करने जा रहा है, जिसमें बैंक के मोबाइल वॉलेट का इस्तेमाल कर एटीएम से पैसा निकाला जा सकेगा। हालांकि, मोबाइल वॉलेट के जरिये एटीएम से प्रत्येक निकासी के लिए बैंक 25 रुपए का शुल्‍क वसूलेगा।

इस बीच, एसबीआई ने मीडिया में आई इन खबरों का खंडन किया है कि उसने नियमित एटीएम लेनदेन पर सेवा शुल्क बढ़ाकर 25 रुपए कर दिया है। एसबीआई के प्रबंध निदेशक (राष्ट्रीय बैंकिंग) रजनीश कुमार ने कहा कि सामान्य बचत खातों से एटीएम के जरिये निकासी पर सेवा शुल्क में किसी तरह का बदलाव नहीं किया गया है। यह भी पढ़ें: स्‍नैपडील को बेचने के लिए सॉफ्टबैंक को मिली नेक्‍सस वेंचर्स की मंजूरी, अगले कुछ दिनों में हो सकती है घोषणा

कुमार ने कहा, यदि ग्राहक के पास हमारे मोबाइल वॉलेट एसबीआई बडी में पैसा है तो वह एटीएम से इसे निकाल सकता है। इसके अलावा ग्राहक अब मोबाइल वॉलेट से या मोबाइल वॉलेट में बिजनेस कॉरस्पॉन्डेंट (बीसी) के जरिये पैसा जमा कर सकता है या निकाल सकता है। इससे पहले ये सुविधाएं उपलब्ध नहीं थीं।

बीसी के जरिये मोबाइल वॉलेट में 1,000 रुपए जमा कराने पर बैंक 0.25 प्रतिशत का सेवा शुल्क और सेवा कर लगाएगा। यह न्यूनतम 2 रुपए और अधिकतम 8 रुपए होगा। इसके अलावा एसबीआई बडी से बीसी के जरिये 2,000 रुपए तक की निकासी पर लेनदेन के मूल्य का ढाई प्रतिशत सेवा शुल्क (न्यूनतम छह रुपए) और सेवा कर लगाया जाएगा।

कोटक बैंक क्यूआईपी से जुटाएगा 5,662 करोड़ रुपए  

निजी क्षेत्र के कोटक महिंद्रा बैंक ने अपने 6.20 करोड़ शेयरों के पात्र संस्थागत नियोजन (क्यूआईपी) के जरिये 5,662 करोड़ रुपए जुटाने की योजना बनाई है। यह शेयर बिक्री बैंक के प्रवर्तक वाइस चेयरमैन उदय कोटक द्वारा हिस्सेदारी कम करने की प्रक्रिया के तहत की जा रही है। रिजर्व बैंक ने इसकी सलाह दी थी।

बैंक के शेयरधारकों ने क्यूआईपी निर्गम को मंजूरी दे दी है। इसके अलावा शेयरधारकों ने निर्गम के संदर्भ में न्यूनतम मूल्य को भी मंजूरी दे दी है। न्यूनतम मूल्य 5 रुपए के शेयर के लिए 913.24 रुपए तय किया गया है। इस तरह न्यूनतम मूल्य पर करीब 5,662 करोड़ रुपए जुटाए जाएंगे। मौजूदा इक्विटी आधार पर कुल 3.37 प्रतिशत हिस्सेदारी का विनिवेश निर्गम के जरिये होगा।

Write a comment