1. Home
  2. My Profit
  3. Loans
  4. पैसों की जरूरत होने पर पर्सनल लोन की जगह अपना सकते हैं ये रास्‍ता, नहीं देना होगा ज्‍यादा ब्‍याज

पैसों की जरूरत होने पर पर्सनल लोन की जगह अपना सकते हैं ये रास्‍ता, नहीं देना होगा ज्‍यादा ब्‍याज

जब कभी अचानक पैसों की जरूरत पड़ती है तो लोग अक्‍सर पर्सनल लोन के बारे में सोचते हैं। हालांकि, पर्सनल लोन से सस्‍ते विकल्‍प भी बाजार में उपलब्‍ध हैं।

Manish Mishra | Jun 7, 2017 | 7:29 AM
पैसों की जरूरत होने पर पर्सनल लोन की जगह अपना सकते हैं ये रास्‍ता, नहीं देना होगा ज्‍यादा ब्‍याज

नई दिल्‍ली। जब कभी अचानक पैसों की जरूरत पड़ती है तो लोग अक्‍सर पर्सनल लोन के बारे में सोचते हैं। हालांकि, पर्सनल लोन से सस्‍ते विकल्‍प भी बाजार में उपलब्‍ध हैं। अगर आपने पहले से होम लोन लिया हुआ है और लोन रिपेमेंट का इतिहास बिल्‍कुल साफ-सुथरा है तो आपने जिस कर्जदाता लोन लिया है उससे टॉप अप लोन के लिए बात कर सकते हैं। टॉप अप लोन की ब्‍याज दरें होम लोन से कुछ अधिक लेकिन पर्सनल लोन से काफी कम होती हैं।

टॉप अप लोन देते समय इन बातों पर गौर करते हैं कर्जदाता

  • होम लोन की शेष राशि
  • कर्ज लेने वाले व्‍यक्ति की प्रॉपर्टी की मौजूदा कीमत
  • कर्जदाता की आय और उसकी रिपेमेंट की क्षमता

यह भी पढ़ें : सस्‍ता कार लोन लेने का ये है बेस्‍ट तरीका, पसंदीदा कार का सौदा भी पड़ेगा सस्‍ता

इसलिए भी बेहतर है टॉप अप लोन

टॉप अप लोन आप किसी भी उद्देश्य से ले सकते हैं। अगर आप इसका इस्तेमाल घर के नवीकरण के लिए करते हैं आयकर का लाभ भी मिलेगा। आम तौर पर बैंक प्रॉपर्टी का वैल्यूएशन करवाने के बाद टॉप अप लोन की राशि तय करते हैं। आपको बता दें कि टॉप अप लोन का इस्तेमाल बच्चों की शिक्षा, बेटी की शादी या फिर अतिरिक्त प्रॉपर्टी की खरीदारी के लिए भी किया जा सकता है। टॉप अप लोन वास्तव में पर्सनल लोन जैसा ही है जिसका इस्तेमाल ग्राहक अपनी मर्जी से कर सकता है। इस तरह का लोन मौजूदा होम लोन के अतिरिक्त लिया जाता है इसलिए कर्ज लेने वाले व्यक्ति को होम लोन के भुगतान के साथ-साथ टॉप अप लोन की मासिक किस्तों का भुगतान भी करना पड़ता है।

टॉप अप लोन की राशि का निर्धारण

टॉप लोन कुछ शर्तों के साथ मिलता है। या फिर यूं कहें कि किसी व्यक्ति को टॉप अप लोन मिलेगा या नहीं यह तय करने के लिए कुछ मानदंड होते हैं। दरअसल होम लोन लेने वाला व्यक्ति अगर समय पर ईएमआई का पेमेंट कर रहा है और उसके कर्ज की राशि कम हो गई है या उसकी प्रॉपर्टी की कीमत में इजाफा हुआ है तो उसे टॉप अप लोन मिल सकता है। इसका मतलब यह है कि टॉप अप लोन के लिए आवेदन करने से पहले यह जरूरी है कि व्यक्ति ने होम लोन का रिपेमेंट करना शुरू कर दिया हो। आपने लोन का जितना ज्यादा भुगतान किया होगा उतना ज्यादा टॉप अप लोन आपको मिल सकेगा। टॉप अप लोन देते वक्त कर्जदाता कई पहलुओं  पर गौर करते हैं।

यह भी पढ़ें : LIC हाउसिंग ने घर बनाने, खरीदने और मरम्मत के लिए शुरू की नई स्कीम, मिलेगा 25 लाख तक का लोन

बैंक आम तौर पर प्रॉपर्टी की मौजूदा मार्केट वैल्यू का 70 फीसदी तक (होम लोन सहित) टॉप अप लोन के तौर  पर देते हैं। इसके लिए कर्जदाता कंपनियां बाकायदा प्रॉपर्टी का वैल्यूएशन करवाती हैं। टॉप अप लोन की अधिकतम राशि अलग-अलग कर्जदाताओं पर निर्भर करती है।

टॉप अप लोन के लिए आवेदन करने की प्रक्रिया

कई सार्वजनिक और निजी सेक्टर के कर्जदाता टॉप अप लोन की सुविधा उपलब्ध करा रहे हैं। टॉप अप लोन के लिए आवेदन करना बेहद आसान है। इसके ग्राहकों को बस संबंधित बैंक अधिकारी से संपर्क करना होगा। इसके लिए बैंक की वेबसाइट पर ऑनलाइन फॉर्म भी मौजूद हैं। इस तरह के लोन पर न्यूनतम प्रोसेसिंग फीस लगती है और कई बार अच्छे रिपेमेंट रिकॉर्ड वाले मौजूदा ग्राहकों को तो इस पर कोई शुल्क नहीं चुकाना पड़ता है।

Write a comment