1. Home
  2. My Profit
  3. Home
  4. सरकार का PMAY के तहत 2017-18 में 12 लाख मकान बनाने का लक्ष्य, 2022 तक सबका होगा अपना घर

सरकार का PMAY के तहत 2017-18 में 12 लाख मकान बनाने का लक्ष्य, 2022 तक सबका होगा अपना घर

केंद्र सरकार ने वित्‍त वर्ष 2017-18 में शहरों के लिए प्रधानमंत्री आवास योजना (PMAY) के तहत 12 लाख मकान बनाने का महत्वाकांक्षी लक्ष्य निर्धारित किया है।

Abhishek Shrivastava | May 22, 2017 | 6:44 PM
सरकार का PMAY के तहत 2017-18 में 12 लाख मकान बनाने का लक्ष्य, 2022 तक सबका होगा अपना घर

नई दिल्‍ली। केंद्र सरकार ने वित्‍त वर्ष 2017-18 में शहरों के लिए प्रधानमंत्री आवास योजना (PMAY) के तहत 12 लाख मकान बनाने का महत्वाकांक्षी लक्ष्य निर्धारित किया है। वर्ष 2016-17 में इस योजना के तहत केवल 1.49 लाख मकान बनाए गए थे।

एक वरिष्ठ सरकारी अधिकारी के अनुसार पीएमएवाई के तहत केंद्र का 2018-19 में 26 लाख, 2019-20 में 26 लाख, 2020-21 में 30 लाख और 2021-22 में 29.80 लाख मकान बनाने का लक्ष्य है। यह भी पढ़ें:  इन 6 राज्यों में बनेंगे एक लाख 17 हजार सस्ते घर, केंद्र सरकार ने दी मंजूरी

अधिकारी ने बताया कि सरकार की महत्वपूर्ण योजना पीएमएवाई (शहरी) के क्रियान्वयन के पिछड़ जाने की मुख्य वजह जमीन अधिग्रहण में देरी है। अधिकारी ने कहा, अबतक, 18.76 लाख मकानों के निर्माण के प्रस्ताव को मंजूरी दी गई है और 13.06 लाख मकानों के निर्माण के लिए धन भी जारी किया गया है।

लेकिन जमीन अधिग्रहण में विलंब के कारण 2016-17 में पीएमएवाई के तहत केवल 1.49 लाख मकान बन पाए। सरकार ने 2022 तक सभी के लिए मकान सुनिश्चित करने के लक्ष्य को लेकर जून, 2015 में प्रधानमंत्री आवास योजना (शहरी)  शुरू की थी।

 

Write a comment