1. Home
  2. News And Views
  3. Views
  4. नोटबंदी से Paytm फाउंडर विजय शेखर शर्मा हुए मालामाल, दिल्‍ली के लुटियंस जोन में खरीदा 82 करोड़ का बंगला

नोटबंदी से Paytm फाउंडर विजय शेखर शर्मा हुए मालामाल, दिल्‍ली के लुटियंस जोन में खरीदा 82 करोड़ का बंगला

Paytm के संस्‍थापक विजय शेखर शर्मा ने नई दिल्‍ली के गोल्‍फ लिंक में एक रिहायशी संपत्ति खरीदी है, यह देश के सबसे महंगे रियल एस्‍टेट स्‍थानों में से एक है।

Abhishek Shrivastava | Jun 7, 2017 | 1:45 PM
नोटबंदी से Paytm फाउंडर विजय शेखर शर्मा हुए मालामाल, दिल्‍ली के लुटियंस जोन में खरीदा 82 करोड़ का बंगला

नई दिल्‍ली। डिजिटल पेमेंट कंपनी Paytm के संस्‍थापक विजय शेखर शर्मा ने नई दिल्‍ली के गोल्‍फ लिंक में एक रिहायशी संपत्ति खरीदी है, यह देश के सबसे महंगे रियल एस्‍टेट स्‍थानों में से एक है।

लुटियंस जोन में 6,000 वर्ग फुट की इस संपत्ति का सौदा तकरीबन 82 करोड़ रुपए में हुआ है। समझौते पर हस्‍ताक्षर करने के बाद शर्मा ने इस सौदे की कुछ रकम का भुगतान भी कर दिया है। हालांकि अभी इस सौदे की रजिस्‍ट्री नहीं हुई है। शर्मा इस प्‍लॉट पर एक नए घर का निर्माण करेंगे। पेटीएम में विजय शेयर शर्मा की हिस्‍सेदारी तकरीबन 16 प्रतिशत है। इसके अलावा पेटीएम पेमेंट्स बैंक बिजनेस में शर्मा की हिस्‍सेदारी 51 प्रतिशत है। यह भी पढ़ें:  विजय शेखर शर्मा है भारत के अंडर-40 भारतीय एंट्रप्रेन्‍योर्स में सबसे अमीर, सुपर रिच लिस्‍ट में आए पतंजलि प्रमोटर बालकृष्‍ण

भारत के सबसे युवा अरबपति उद्यमी

शर्मा को फोर्ब्‍स ने सबसे युवा भारतीय अरब‍पति की लिस्‍ट में शामिल किया है और उनकी नेट वर्थ 1.3 अरब डॉलर बताई गई है। पिछले एक साल में उनकी संपत्ति में 162 प्रतिशत का इजाफा हुआ है और वह 40 साल आयु वर्ग में सबसे अमीर उद्यमी हैं।लुटियंस जोन की बात करें तो यहां 3,000 एकड़ में रिहायशी प्रॉपर्टी हैं और करीब 1,000 बंगले बने हुए हैं। हालांकि इनमें से 70 से अधिक बंगलों का इस्‍तेमाल निजी उपयोग के लिए नहीं किया जा सकता है। अधिकांश बंगलों में केंद्रीय मंत्री और प्रभावी लोग रहते हैं।

नोटबंदी के बाद हुए मालामाल

पिछले साल नवंबर में सरकार द्वारा नोटबंदी की घोषणा के बाद सबसे ज्‍यादा फायदा पेटीएम को हुआ है। 86 प्रतिशत करेंसी नोटों को चलन से बाहर कर सरकार ने डिजिटल पेमेंट को बढ़ावा देने का काम किया, जिसका लाभ सीधे पेटीएम को हुआ। वर्तमान में पेटीएम भारत की दूसरी सबसे मूल्‍यवान इंटरनेट कंपनी है, पहले स्‍थान पर फ्लि‍पकार्ट है। मई में जापान की सॉफ्टबैंक ने पेटीएम में 1.4 अरब डॉलर का ताजा निवेश किया है, जिससे इसका मूल्‍याकंन बढ़कर 7 अरब डॉलर पर पहुंच गया है।

 20 करोड़ यूजर्स हैं पेटीएम के

नवंबर में नोटबंदी के बाद से पेटीएम यूजर्स की संख्‍या में तेजी से बढ़ोतरी हुई है। इस साल मार्च में पेटीएम ने 20 करोड़ यूजर्स का आंकड़ा पार कर लिया है। नोटबंदी से पहले पेटीएम के केवल 15 करोड़ यूजर्स थे लेकिन उनका ट्रांजैक्‍शन कम था। नोटबंदी के बाद केवल एक महीने में पेटीएम ने 2 करोड़ नए यूजर्स जोड़े। पिछले महीने पेटीएम ने अपना पेमेंट बैंक भी शुरू कर दिया है। अब पेटीएम का लक्ष्‍य 2020 तक 50 करोड़ यूजर्स का आंकड़ा पार करने का है।

Write a comment