1. Home
  2. News And Views
  3. News
  4. संसदीय समिति ने सरकार से हवाई किराए पर नियंत्रण लगाने पर विचार करने को कहा

संसदीय समिति ने सरकार से हवाई किराए पर नियंत्रण लगाने पर विचार करने को कहा

Dharmender Chaudhary | Mar 19, 2017 | 6:01 PM
संसदीय समिति ने सरकार से हवाई किराए पर नियंत्रण लगाने पर विचार करने को कहा
SHOW FULL IMAGE

नई दिल्ली। संसद की एक समिति ने सरकार से हवाई टिकट की कीमत पर सीमा लगाने पर गौर करने और खाड़ी क्षेत्र में कृत्रिम रूप से अत्यधिक मूल्य सृजित किए जाने पर नियंत्रण लगाने को कहा है। कुछ तबकों से विमान किरायों में खासकर त्यौहारों के दौरान अत्यधिक वृद्धि को लेकर जताई गई चिंता के बीच समिति ने यह सुझाव दिया है।

यह भी पढ़ें: उत्तर प्रदेश की नई सरकार के सामने बिजली, गन्ना बकाया होगी प्रमुख चुनौतियां

समिति ने अपनी रिपोर्ट में कहा कि नागर विमानन मंत्रालय को प्रत्येक क्षेत्र के लिए खासकर एकोनॉमी क्लास के हवाई किराए के लिए उच्च सीमा नियत करने पर विचार करना चाहिए। रिपोर्ट के अनुसार, हम विकासशील देश हैं और जो कीमत व्यवस्था विकसित देशों में लागू होती है, वह भारतीय जनता और भारत की स्थिति में उपयुक्त नहीं हो सकती।

यह भी पढ़ें: नोटबंदी पत्‍थर को अंडे मारने जैसा प्रयास, इसने भ्रष्टाचार के नए रास्ते खोले : अर्थशास्त्री

  • परिवहन, पर्यटन और संस्कृति पर विभाग से जुड़ी संसद की स्थाई समिति ने संसद में पिछले सप्ताह पेश अपनी रिपोर्ट में यह सिफारिश की।
  • रिपोर्ट नागर विमानन मंत्रालय की अनुदान मांगों (2017-18) पर है।
  • पहले भी हवाई किराए पर अंकुश लगाने की मांग उठती रही है लेकिन मंत्रालय यह कहता रहा है कि विमान किराया का उस पर नियंत्रण नहीं है और यह मांग एवं आपूर्ति पर निर्भर करता है।
  • समिति के अनुसार मंत्रालय को कानूनी सीमाएं स्पष्ट रूप से रखनी चाहिए और अगर ऐसा है तो उसे जरूरी संशोधन या उपाय करने चाहिए और संबंधित पक्षों के साथ बातचीत के बाद विमान किराए में अत्यधिक वृद्धि पर अंकुश लगाना चाहिए।