1. Home
  2. My Profit
  3. News To Use
  4. 20 रुपए में खाता खुलवा कर भी की जा सकती है हजारों की टैक्स सेविंग

20 रुपए में खाता खुलवा कर भी की जा सकती है हजारों की टैक्स सेविंग

पोस्‍ट ऑफिस की कई स्‍कीम्‍स हैं, जो आपको शॉर्ट टर्म से लेकर लॉन्‍ग टर्म में ठीक-ठाक लेकिन सिक्‍योर्ड रिटर्न और निवेश पर टैक्स में छूट देती हैं।

Surbhi Jain | Feb 15, 2017 | 4:37 PM
20 रुपए में खाता खुलवा कर भी की जा सकती है हजारों की टैक्स सेविंग

नई दिल्‍ली। हम सभी सेविंग और निवेश के लिए हमेशा नए विकल्‍पों की तलाश करते रहते हैं। इसके लिए हम यहां वहां भटकते हैं, एजेंट की सलाह लेते हैं। जबकि इसका एक बेहतर सॉल्‍यूशन आपके घर के पास मौजूद पोस्‍ट ऑफिस में ही मौजूद है। पोस्‍ट ऑफिस में बैंको की तरह सेविंग की कई स्‍कीम्‍स हैं, जो आपको शॉर्ट टर्म से लेकर लॉन्‍ग टर्म में ठीक-ठाक लेकिन सिक्‍योर्ड रिटर्न देती हैं। क्‍योंकि पोस्‍ट ऑफिस केंद्र सरकार के अंतर्गत काम करता है, ऐसे में आपके रुपए डूबने की भी कोई संभावना नहीं होती। पोस्‍ट ऑफिस स्‍कीम्‍स की सबसे बड़ी खासियत यह है कि इसमें आप 10 रुपए या 20 रुपए जितनी छोटी रकम से भी सेविंग शुरू कर सकते हैं। वहीं जिस तरह पोस्‍ट ऑफिस एटीएम और सेंट्रलाइज्‍ड बैंकिंग सिस्‍टम से जुड़ रहे हैं, उससे पोस्‍टऑफिस में बैंकिंग और भी कन्‍वीनिएंट हो गई है। आइए, इंडिया टीवी पैसा की टीम के साथ समझिए पोस्‍ट ऑफिस की स्‍कीम्‍स और इनसे मिलने वाले फायदों के बारे में-

यह भी पढ़ें– मोदी ने दिया सिंगापुर की कंपनियों को PSU में निवेश का न्‍योता, स्‍मार्ट शहरों के डेवलपमेंट के लिए मांगी मदद

20 रुपए से खोल सकते हैं सेविंग अकाउंट

पोस्ट ऑफिस सेविंग अकाउंट खुलवाने वाले कस्टमर्स को सालाना 4 फीसदी ब्याज मिलता है। 20 रुपए की नकद राशि से कोई भी व्यक्ति डाकघर में सेविंग अकाउंट खोल सकता है। ऐसे में आप बच्‍चों के अकाउंट इसमें खुलवा सकते हैं। बैंक अब एटीएम की भी सुविधा देते हैं। ऐसे में बच्‍चे अपनी पॉकिट मनी पोस्‍टऑफिस में सेव कर सकते हैं। इसके अलावा डाकघर में कई तरह के अकाउंट खुलते हैं। रिकरिंग खाते में ब्याज दर 8.4 फीसदी है। इसमें हर माह जमा सिर्फ 10 रुपए जमा कर सकते हैं। इसकी कोई अधिकतम सीमा नहीं है। पांच वर्ष की परिपक्वता अवधि वाली इस योजना पर वार्षिक 8.4 फीसदी ब्याज देय है। अगले पांच वर्ष के लिए उसी ब्याज दर पर रकम के बढ़ने की सुविधा उपलब्ध है।

यह भी पढ़ें– Five Steps to Know: दिवाली पर मिला है मोटा बोनस, तो ऐसे करें उसका सही इस्‍तेमाल

 हर महीने इनकम का इंतजाम

 पोस्‍टऑफिस में सेविंग कर आप मंथली इनकम भी हासिल कर सकते हैं। पोस्‍ट ऑफिस मंथली इनकम योजना में आपको एक निश्चित रकम पोस्‍ट ऑफिस में जमा करनी होती है। जिस पर अकाउंट होल्डर को 8.40 फीसदी की दर से ब्याज मिलता है। हालांकि, यह दर स्थिर नहीं है। इसमें हर साल बदलाव होता रहता है और छह साल में आपका अकाउंट मैच्‍योर हो जाता है। हालांकि, ब्याज की राशि हर साल आपके अकाउंट में डाल दी जाती है, लेकिन खाते में कम से कम 1500 रुपए रखना जरूरी होता है।

सीनियर सिटिजन सेविंग स्कीम

यह स्‍कीम खासतौर पर रिटायर्ड या फिर सीनियर सिटीजंस के लिए तैयार की गई है। इसमें कम से कम  60 साल की उम्र वाले व्यक्ति इस योजना का लाभ लेते हुए पांच साल की अवधि के लिए अपना सेविंग अकाउंट खुलवा सकते हैं। जिनमें जमा राशि पर 9 फीसदी की दर से ब्याज मिलेगा। साथ ही आईटी एक्ट की धारा 80 सी के तहत यह लेने पर टैक्स में छूट भी मिलती है। आप रिटायरमेंट के बाद मिले ग्रेच्‍युटी और दूसरे फंड्स को पोस्‍ट ऑफिस में जमा कर इस स्‍कीम का फायदा उठा सकते हैं।

सुकन्या योजना

ये स्कीम खास बेटियों के लिए हैं। आप अपनी दो बेटियों के खाते इस सुकन्‍या योजना में खोल सकते हैं। आपको इस योजना हर साल कम से कम 1 हजार रुपए जमा कराने होंगे। वहीं अधिकतम 1.50 लाख रुपए तक जमा कर सकते हैं। सरकार ने इस योजना के लिए चालू वित्त वर्ष में 9.1 फीसदी का ब्याज तय किया है। इस खाते में आपको 14 साल तक पैसा जमा करना होता है। जब बेटी की उम्र 21 साल हो जाएगी, तब आप पूरा पैसा निकाल सकते हैं। हालांकि, इसके तहतजरूरत पड़ने पर बेटी के 18 साल होने पर भी आधे पैसे निकाले जाने की छूट दी गई है। लेकिन 18 से 21 साल के बीच लड़की की शादी कर दिए जाने की स्थिति में खाता बंद कर दिया जाएगा।

 नेशनल सेविंग सार्टिफिकेट

 नेशनल सेविंग सार्टिफिकेट एक निवेश का एक बेहतर जरिया है। इसे हम एक तरह का फिक्‍स डिपॉजिट मान सकते हैं। इसमें पांच साल का लॉक इन पीरिएड होता है। सरकार ने फिलहाल नेशनल सेविंग सार्टिफिकेट के लिए 8.5 फीसदी का ब्‍याज निर्धारित किया है। इसमें छमाही आधार पर ब्‍याज जोड़ा जाता है। ऐसे में चक्रवृद्धि ब्‍याज के रूप में रिटर्न भी अच्‍छा मिलता है। इस निवेश की सबसे बड़ी खासियत यह है कि आप इसके साथ 1.5 लाख रुपए तक का टैक्‍स रिबेट भी हासिल कर सकते हैं।

र्म डिपॉजिट स्‍कीम

टर्म डिपॉजिट योजना पांच साल के लिए होती है, जिसे 200 रुपए से शुरू किया जाता है। पहले चार सालों तक ब्याज दर 8.4 फीसदी रहती है। जबकि पांचवें साल में ब्याज दर  8.5 फीसदी मिलती है। ब्याज वार्षिक रूप में मिलता है, लेकिन तिमाही के आधार पर जोड़ा जाता है। योजना में मिलने वाला ब्याज बिल्कुल कर मुक्त है।

Write a comment