1. Home
  2. News And Views
  3. News
  4. दिल्‍ली-एनसीआर में शुरू होगी पहली Pod Taxi, गुड़गांव में होगी बिना ड्राइवर के हवा में सवारी

दिल्‍ली-एनसीआर में शुरू होगी पहली Pod Taxi, गुड़गांव में होगी बिना ड्राइवर के हवा में सवारी

Abhishek Shrivastava | Oct 3, 2016 | 2:22 PM
दिल्‍ली-एनसीआर में शुरू होगी पहली Pod Taxi, गुड़गांव में होगी बिना ड्राइवर के हवा में सवारी
SHOW FULL IMAGE

नई दिल्ली। दिल्‍ली-हरियाणा राजमार्ग पर महत्वाकांक्षी Pod Taxi  प्रोजेक्‍ट तेजी से आगे बढ़ रहा है। पायलट प्रोजेक्‍ट के तहत इसे NH-8 (एम्बिएंस मॉल के समीप) पर दिल्ली-हरियाणा राजमार्ग पर चलाया जाएगा। इसे राजीव चौक, इफको और सोहना रोड होते हुए बादशाहपुर तक ले जाया जाएगा, और इस पर करीब 800 करोड़ रुपये का खर्च आएगा। पायलट प्रोजेक्‍ट के तहत इसे NH-8 (दिल्ली-हरियाणा राजमार्ग) पर 12.3 किलोमीटर तक चलाया जाएगा।

यह भी पढ़ें : DTC बसों में भी मेट्रो कार्ड से कर सकेंगे सफर, अगले दो महीने में शुरू होगी सर्विस

मेट्रिनों के नाम से मशहूर है पॉड टैक्‍सी

वैश्विक स्तर पर Pod Taxi को ‘पर्सनल रैपिड ट्रांज़िट’ या ‘मेट्रिनो’ के नाम से जाना जाता है। सरकार ने इसे भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण (NHAI) के तहत क्रियान्वित करने का फैसला किया है। शुरुआती बोली में विश्‍व की चार कंपनियां इसके योग्‍य पाई गई हैं।

सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने कहा, हम एनएचएआई के तहत 800 करोड़ रुपये की पायलट परियोजना को क्रियान्वित करने जा रहे हैं।

तस्वीरों में देखिए मेट्रीनो

यह भी पढ़ें : बिना ड्राइवर चलेगी मेट्रो, देश की पहली चालक रहित मेट्रो का परीक्षण रहा सफल

क्‍या है मेट्रीनो प्रोजेक्‍ट

मेट्रीनो एक आधुनिक ट्रांसपोर्ट प्रणाली है। जिसमें छोटे-छोटे केबिन जमीन से कुछ मीटर ऊपर खंभों और ओवरहैड केबल्‍स से आगे बढ़ते हैं। यह पूरी तरह से ड्राइवरलैस सिस्‍टम है। इसके स्‍टेशन जमीन पर ही होते हैं। स्‍टेशन आने पर पॉड(केबिन) अपने आप नीचे उतर आते हैं। एक पॉड में करीब 6 से 8 लोग सफर कर सकते हैं। इस तकनीक पूरी तरह से प्रदूषण मुक्‍त है। इस प्रोजेक्‍ट की लागत मेट्रो प्रोजेक्‍ट के मुकाबले 5 गुना कम है। साथ ही इससे व्‍यस्‍त ट्रैफिक वाले इलाकों में सुरक्षित आवागमन संभव होता है।