1. Home
  2. News And Views
  3. News
  4. #monsoon2017: अगले हफ्ते गोवा पहुंचेगा मानसून, दिल्ली में 25-26 जून को हो सकती है पहली मानसूनी बारिश

#monsoon2017: अगले हफ्ते गोवा पहुंचेगा मानसून, दिल्ली में 25-26 जून को हो सकती है पहली मानसूनी बारिश

दक्षिण पश्चिमी मानसून तेजी से देश के पश्चिमी तट की ओर बढ़ रहा है। मौसम विभाग के मुताबिक दक्षिण पश्चिम मानसून छह जून के आसपास गोवा पहुंचने की उम्मीद है।

Ankit Tyagi | Jun 1, 2017 | 1:09 PM
#monsoon2017: अगले हफ्ते गोवा पहुंचेगा मानसून, दिल्ली में 25-26 जून को हो सकती है पहली मानसूनी बारिश

नई दिल्ली। दक्षिण पश्चिमी मानसून अब तेजी से देश के पश्चिमी तट की ओर बढ़ रहा है। भारतीय मौसम विभाग के मुताबिक दक्षिण पश्चिम मानसून छह जून के आसपास गोवा पहुंचने की उम्मीद है। वहीं, एक अखबार को दिए इंटरव्यु में मौसम  विभाग के महानिदेशक डॉ केजे रमेश ने कहा कि दिल्ली-एनसीआर में मानसून आने की आधिकारिक तिथि 29 जून है। केरल से दिल्ली तक आने में इसे चार सप्ताह का समय लग जाता है। केरल में मानसून दो दिन पहले ही पहुंच गया है और उसकी रफ्तार भी अच्छी चल रही है तो संभावना जताई जा सकती है कि दिल्ली-एनसीआर में यह 25 या 26 जून को दस्तक देगा। यह भी पढ़े: #monsoon2017: मानसून ऐसे डालता है आपकी जेब पर असर, अच्‍छी बारिश से आपको होते हैं ये 6 फायदे

No

मानसून अपडेट
गर्मी से राहत देते हुए मानसून पूर्व बारिश ने  गोवा को जमकर भिगोया जिससे कई निचले इलाकों तथा राजधानी एवं अन्य स्थानों पर सड़कों पर पानी भर गया। मौसम विभाग के पूर्वानुमान के अनुसार, बारिश अगले 48 घंटे जारी रहेगी। गोवा में भारतीय मौसम विभाग के निदेशक एम सी साहू ने कहा कि फिलहाल बारिश समुद्र के पश्चिमी तट से दूर बने क्षेत्र के कारण हो रही है। यह क्षेत्र दक्षिण महाराष्ट्र से केरल तट तक बना हुआ है जिससे इस इलाके में बारिश हो रही है। उन्होंने कहा कि बारिश अगले 48 घंटे जारी रहेगी और कुछ स्थानों पर भारी बारिश हो सकती है जबकि राज्य के बाकी इलाकों में सामान्य बारिश हो सकती है। दक्षिण पश्चिम मानसून छह जून के आसपास गोवा पहुंचने की उम्मीद है। इस बीच, मौसम विभाग ने इस बात को खारिज कर दिया कि की बारिश बंगाल की खाड़ी में आए चक्रवात मोरा की वजह से आई । यह भी पढ़े: #monsoon2017: मानसून के इस सीजन में आपके पास है इन शेयरों में पैसा बनाने का मौका, ऐसे उठाएं फायदा

No

ओडिशा में गर्मी का कहर
देश के कई राज्यों में मानसून पूर्व बारिश से लोगों को गर्मी से थोड़ी राहत मिली लेकिन ओडिशा में गर्मी का कहर जारी रहा जहां अंगुल में अधिकतम तापमान 44.1 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।  राष्ट्रीय राजधानी में बारिश से अधिकतम तापमान 34.7 डिग्री सेल्सियस पर पहुंच गया और न्यूनतम तापमान 26.4 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। सफदरजंग वेधशाला ने दिल्ली में 11.8 मिमी बारिश दर्ज की।  हरियाणा और पंजाब के कुछ शहरों में भी आज हल्की बारिश हुई जिससे लोगों को गर्मी से थोड़ी राहत मिली। यह भी पढ़े: #Southwestmonsoon: केरल और नॉर्थ ईस्ट में मानसून ने दी दस्तक, तूफान ‘मोरा’ बांग्लादेश पहुंचा

No

पश्चिमी विक्षोभ के कारण इन इलाकों में हो रही है बारिश
पश्चिमी विक्षोभ के कारण बादल छाए रहने से राजस्थान में भी पारे में गिरावट दर्ज की गई। बुधवार से पूर्वी राजस्थान में रक-रककर बारिश हो रही है। हालांकि, पश्चिमी राजस्थान में मुख्यतौर पर सूखा छाया रहा, जहां सिर्फ हनुमानमढ़ और चुरू जिले के कुछ इलाकों में ही बारिश हुई। मिजोरम में मोरा चक्रवात के कारण तेज हवाएं चलीं जिससे बिजली और दूरसंचार नेटवर्क प्रभावित होने के साथ ही कई घर क्षतिग्रस्त हुए और भूस्खलन का खतरा पैदा हो गया। बिहार में भी हल्की बारिश से पारा थोड़ा नीचे आया। पटना और गया में क्रमश: 0.7 मिमी और 3.8 मिमी बारिश दर्ज की गई।  बहरहाल ओड़िशा में गर्मी का कहर जारी रहा। अंगुल राज्य का सबसे गर्म स्थान रहा जहां अधिकतम तापमान 44.1 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।यह भी पढ़े: 3 साल में PM मोदी ने की 3.4 लाख किमी की विदेशी यात्रा, जानिए मोदी के विदेशी दौरों से जुड़े 7 रोचक फैक्ट्स

No

दिल्ली-NCR में 25 जून को पहुंच सकता है मानसून
दक्षिणी-पश्चिमी मानसून की अगर यही रफ्तार रही तो दिल्ली-एनसीआर में यह 25 जून के आसपास दस्तक दे देगा। 20 जून के आसपास प्री मानसून बारिश की भी संभावना है। हालांकि इस संबंध में कोई भी अधिकृत घोषणा सप्ताह भर बाद ही होगी। बांग्लादेश के तटीय इलाकों में आए चक्रवाती तूफान मोरा के कारण केरल और पूर्वोत्तर राज्यों में दक्षिणी-पश्चिमी मानसून समय से पूर्व आ गया है। केरल में मानसून की आधिकारिक तिथि एक जून है।

No

एक हिंदी अखबार से बातचीत में मौसम विभाग के महानिदेशक डॉ केजे रमेश ने बताया कि दिल्ली-एनसीआर में मानसून आने की आधिकारिक तिथि 29 जून है। केरल से दिल्ली तक आने में इसे चार सप्ताह का समय लग जाता है। केरल में मानसून दो दिन पहले ही पहुंच गया है और उसकी रफ्तार भी अच्छी चल रही है तो संभावना जताई जा सकती है कि दिल्ली-एनसीआर में यह 25 या 26 जून को दस्तक देगा।

Write a comment