1. Home
  2. My Profit
  3. Car
  4. मारुति का 2020 तक सालना बिक्री 20 लाख तक पहुंचाने का लक्ष्य, 2016-17 में बेचीं 15.6 लाख कारें

मारुति का 2020 तक सालना बिक्री 20 लाख तक पहुंचाने का लक्ष्य, 2016-17 में बेचीं 15.6 लाख कारें

सबसे बड़ी कार कंपनी मारुति सुजुकी इंडिया ने 2020 के बाद सालाना 25 से 30 लाख यूनिट बिक्री का लक्ष्य रखा है। कंपनी ने बीते वित्त वर्ष में 15.6 लाख कारें बेची!

Abhishek Shrivastava | May 23, 2017 | 4:49 PM
मारुति का 2020 तक सालना बिक्री 20 लाख तक पहुंचाने का लक्ष्य, 2016-17 में बेचीं 15.6 लाख कारें

गोवा। देश की सबसे बड़ी कार कंपनी मारुति सुजुकी इंडिया ने 2020 के बाद सालाना 25 से 30 लाख यूनिट बिक्री का लक्ष्य रखा है। इसके लिए कंपनी ने एक वर्ल्‍ड कार लॉन्‍च करने की योजना बनाई, जो इस लक्ष्‍य को हासिल करने में उसकी मदद करेगी। कंपनी ने बीते वित्त वर्ष में 15.6 लाख कारें बेची थीं। कंपनी को भरोसा है कि अर्थव्यवस्था की अनुकूल स्थिति तथा सरकार की नीतियों से वह इस लक्ष्य को पाने में सफल रहेगी।

मारुति सुजुकी इंडिया के कार्यकारी निदेशक (बिक्री) आर एस कल्सी ने कहा कि संख्या के हिसाब से हम 2020 तक 20 लाख इकाइयों की बिक्री के आंकड़े पर पहुंचने की योजना बना रहे हैं। अभी सभी मानदंड सकारात्मक नजर आ रहे हैं। यदि कोई अड़चन नहीं आती है तो इस रफ्तार से हम 25 से 30 लाख इकाइयों की बिक्री के लक्ष्य पर ध्यान दे सकते हैं। यह भी पढ़ें:  दुनिया की 10 बड़ी कार कंपनियों में शामिल हुई Maruti, ग्रोथ में निकली सबसे आगे

कंपनी 25 लाख यूनिट के आंकड़े पर कब तक पहुंचेगी इस बारे में पूछे जाने पर कल्सी ने कहा, हम स्पष्ट हैं कि 2020 तक 20 लाख यूनिट पर पहुंचेंगे। उसके बाद तीन साल और। देखते हैं कि बाजार, अर्थव्यवस्था का रुख क्या रहता है। सरकार की नीतियां किस दिशा में आगे बढ़ती हैं। यह इन कारकों पर निर्भर करेगा। कल्सी ने कहा कि कंपनी बिक्री लक्ष्य के हिसाब से अपनी उत्पादन क्षमता के विस्तार की योजना बना रही है। हम अपने संसाधन, नेटवर्क को उस दिशा में लगाने की योजना बना रहे हैं।

उन्‍होंने कहा, हम ढाई-ढाई लाख यूनिट की तीन नई उत्पादन लाइनों की योजना बना रहे हैं। इससे क्षमता 7.5 लाख यूनिट सालाना बढ़ जाएगी। मानेसर और गुड़गांव की क्षमता फिलहाल 15.8 लाख यूनिट की है और ये अपने चरम स्तर पर पहुंच गई है। इस तरह हम 23 लाख इकाई की क्षमता के लिए पहले से तैयार हैं।

उन्‍होंने कहा कि इससे आगे कंपनी को क्षमता के प्रबंधन पर नए सिरे से देखना होगा और गुजरात संयंत्र में आगे और विस्तार की संभावना है। उन्‍होंने कहा कि कंपनी चालू वित्‍त वर्ष में 10 प्रतिशत से अधिक की वृद्धि का लक्ष्य लेकर चल रही है। उद्योग का अनुमान 7 से 9 प्रतिशत वृद्धि का है। ऐसे में निश्चित रूप से हमारी बाजार हिस्सेदारी भी बढ़ेगी। वित्त वर्ष 2016-17 में मारुति की बाजार हिस्सेदारी 47 प्रतिशत रही है। कल्सी ने कहा, इस साल की शुरुआत सकारात्मक रुख के साथ हुई है। हमने अप्रैल में 51 प्रतिशत की बाजार हिस्सेदारी हासिल की है।

Write a comment