1. Home
  2. News And Views
  3. News
  4. L&T को सेना से मिला 100 हॉवित्जर तोपों की आपूर्ति का ठेका, CMI को रेलवे से मिला 86.95 करोड़ का ऑर्डर

L&T को सेना से मिला 100 हॉवित्जर तोपों की आपूर्ति का ठेका, CMI को रेलवे से मिला 86.95 करोड़ का ऑर्डर

इंजीनियरिंग कंपनी समूह लार्सन एंड टूब्रो (एलएंडटी) को भारतीय थल सेना को करीब 4500 करोड़ रुपए की 100 ऑटोमेटिक हॉवित्जर तोपों की आपूर्ति का ठेका मिला है।

Abhishek Shrivastava | May 12, 2017 | 6:53 PM
L&T को सेना से मिला 100 हॉवित्जर तोपों की आपूर्ति का ठेका, CMI को रेलवे से मिला 86.95 करोड़ का ऑर्डर

नई दिल्ली। इंजीनियरिंग कंपनी समूह लार्सन एंड टूब्रो (एलएंडटी) को भारतीय थल सेना को करीब 4500 करोड़ रुपए की 100 ऑटोमेटिक हॉवित्जर तोपों की आपूर्ति का ठेका मिला है।

कंपनी 155एमएम.52 कैलीबर की ऑटौमेटिक तोपों (के 9वीएजेआरए-टी) की पहली खेप इसी साल सेना को सौंपेगी और पूरी आपूर्ति 42 महीने में कर देगी। एलएंडटी ने दक्षिण कोरियाई कंपनी टेक विन के साथ मिल कर इसके लिए 2011 में बोली लगाई थी।

एलएंडटी में रक्षा एवं एयरोस्पेश के प्रमुख जयंत पाटिल ने कहा कि रक्षा मंत्रालय द्वारा किसी निजी भारतीय कंपनी को दिया गया यह सबसे बड़ा ऑर्डर है। के9वीएजेआरए-टी तोप विश्वस्तरीय ऑटोमेटिक हॉवित्जर एचटीडब्ल्यू के के9 थंडर का उन्नत संस्करण है। एलएंडटी ने इसे भारतीय सेना की जरूरतों के हिसाब से कई सुधारों के साथ उन्नत किया है। यह भी पढ़ें:   पैन कार्ड बनवाने और I-T रिटर्न फाइल करने के लिए आधार बताना इनके लिए जरूरी नहीं, सरकार ने दी राहत

सीएमआई को मध्य रेलवे से 86.95 करोड़ रुपए का ऑर्डर

स्पेशियल्टी केबल कंपनी सीएमआई लिमिटेड को मध्य रेलवे से 6,449.89 किलोमीटर के लिए ‘कॉपर कंडक्टर भूमिगत रेलवे सिग्नलिंग केबल की आपूर्ति’ का 86.95 करोड़ रुपए का ऑर्डर मिला है। इस ऑर्डर की आपूर्ति 2017-18 में नौ महीने में की जानी है।

सीएमआई को यह ऑर्डर स्टोर नियंत्रक कार्यालय, मुंबई सीएस टर्मिनलस, मध्य रेलवे से मिला है। इससे पहले कंपनी को मई में ही गेटको से भी ऑर्डर मिला था। इन दो ऑर्डरों से 2017-18 में कंपनी के कारोबार में 121 करोड़ रुपए का इजाफा होगा। कंपनी ने बयान में कहा कि 2016-17 में कंपनी की आय में 45 प्रतिशत योगदान रेलवे को सिग्नलिंग और क्वाड केबल की आपूर्ति से मिला था।

सीएमआई लि के चेयरमैन एवं प्रबंध निदेशक अमित जैन ने कहा कि सरकार के भारतीय रेलवे के विद्युतीकरण, नेटवर्क विस्तार, भीड़भाड़ को कम करने पर जोर तथा देशभर में मेट्रो रेल परियोजनाओं के विकास से वायर और केबल क्षेत्रों को काफी फायदा होगा। सीएमआई वृद्धि की इस कहानी में एक महत्वपूर्ण भागीदार होगी।

Write a comment