1. Home
  2. My Profit
  3. Investment
  4. लिक्विड फंड : यहां पैसे रखकर भूल जाएंगे बैंकों के सेविंग्‍स एकाउंट, ब्‍याज के साथ-साथ सुविधाएं भी मिलेंगी ज्‍यादा

लिक्विड फंड : यहां पैसे रखकर भूल जाएंगे बैंकों के सेविंग्‍स एकाउंट, ब्‍याज के साथ-साथ सुविधाएं भी मिलेंगी ज्‍यादा

ज्‍यादातर बैंक जहां जमा रकम पर 4 फीसदी ब्‍याज की पेशकश बचत खाते पर करते हैं वहीं लिक्विड फंड ने एक साल में औसत 6 फीसदी से ज्‍यादा का रिटर्न दिया है।

Manish Mishra | Aug 13, 2017 | 3:06 PM
लिक्विड फंड : यहां पैसे रखकर भूल जाएंगे बैंकों के सेविंग्‍स एकाउंट, ब्‍याज के साथ-साथ सुविधाएं भी मिलेंगी ज्‍यादा

नई दिल्‍ली। हाल ही में देश के दिग्‍गज बैंकों ने बचत खाते के ब्‍याज पर कटौती की है। आम लोगों को शायद यह नहीं मालूम की झटपट पैसे निकालने के लिए सिर्फ बैंकों के बचत खाते ही एक विकल्‍प नहीं हैं। आज हम आपको बताएंगे कि कहां मिलेगा और बैंकों से बेहतर रिटर्न और उससे बेहतर सुविधाएं।

म्‍यूचुअल फंड अब कोई ऐसी चीज नहीं है जिसके बारे में लोग न जानते हों। हां, यह संभव है कि उसके प्‍लान्‍स के बारे में उन्‍हें जानकारी न हो। दरअसल, म्‍यूचुअल फंडों के लिक्विड फंड बैंकों के बचत खाते को शुरू से ही टक्‍कर देते आ रहे हैं। ज्‍यादातर बैंक जहां जमा रकम पर 4 फीसदी जमा दर की पेशकश बचत खाते पर करते हैं वहीं लिक्विड फंडों ने एक साल में औसत 6 फीसदी से ज्‍यादा का रिटर्न दिया है। पैसों की जरूरत पड़ने पर आप इन फंडों से अपनी जमा रकम तत्‍काल निकासी कर सकते हैं।

यह भी पढ़ें : Tax Saving : गारंटीड रिटर्न के साथ यहां मिलती है टैक्‍स छूट, मैच्‍योरिटी पर मिल सकते हैं दोगुने पैसे

क्या होते हैं लिक्विड फंड

लिक्विड फंड म्यूचुअल फंडों के ही एक प्रकार हैं। ये गवर्नमेंट सिक्योरिटीज, सर्टिफिकेट ऑफ डिपॉजिट, ट्रेजरी बिल्स, कॉमर्शियल पेपर्स और दूसरे डेट इंस्टू्मेंट्स में निवेश करते हैं जिनकी मैच्योरिटी 91 दिनों तक की होती है। ये फंड अपेक्षाकृत ज्यादा सुरक्षित होते हैं।

लिक्विड फंडों के लाभ

इनकी कोई लॉक-इन अवधि नहीं होती। मतलब आप इंवेस्ट करने के दूसरे दिन भी पैसे निकाल सकते हैं। पैसे आपको उसी दिन मिल जाएंगे। आप एक हफ्ते के लिए भी अपने पैसों का निवेश यहां कर सकते हैं।

लिक्विड फंडों के एक साल के रिटर्न

(स्रोत: Valueresearchonline.com, रिटर्न 10 अगस्‍त 2017 के अनुसार हैं।)

यह भी पढ़ें :टैक्‍स सेविंग के साथ करें जोरदार कमाई, यहां निवेश करने पर मिलेगा 40% तक का रिटर्न

पैसे निकालने का कोई झंझट नहीं

कुछ म्यूचुअल फंड कंपनियां तो निवेशकों को तत्काल पैसे निकालने की सुविधा उपलब्ध कराते हैं। उद्योग से जुड़े सूत्रों की मानें तो बाजार नियामक SEBI लिक्विड फंडों से तत्काल निकासी को अनिवार्य भी बना सकता है। रिलायंस म्यूचुअल फंड (Reliance Capital Asset Management) लिक्विड फंडों से निकासी के लिए एनी टाइम मनी (ATM) कार्ड लॉन्च किया था। यह कार्ड HDFC Bank और VISA के साथ मिलकर लॉन्च किया गया था।

रिलायंस म्यूचुअल का फंड यह कार्ड रिलायंस लिक्विड फंड (ट्रेजरी प्लान और कैश प्लान) और रिलायंस मनी मैनेजर फंड के निवेशकों को दिया जाता है। सरकार द्वारा तय सीमा के अनुसार इस ATM कार्ड से पैसे निकाले जा सकते हैं या मर्चेंट को पेमेंट किया जा सकता है। इससे नकद निकासी की अधिकतम सीमा आम तौर पर 50,000 रुपए प्रतिदिन है।

इंडियाबुल्‍स म्‍यूचुअल फंड भी लिक्विड फंडों में निवेश करते वाले अपने ग्राहकों को इंस्‍टैंट निकासी की सुविधा उपलब्‍ध करा रहा है।

DSP BlackRock म्यूचुअल फंड ने पिछले साल 17 अक्टूबर से DSP BlackRock मनी मैनेजर फंड से निकासी करने वाले निवेशकों के खाते में तत्काल पैसे भेजने की शुरुआत की है। DSP BlackRock म्यूचुअल फंड इसके लिए IMPS (इमेडिएट पेमेंट सर्विस) का इस्तेमाल करता है। बिड़ला सनलाइफ म्यूचुअल फंड भी अपने लिक्विड फंड ग्राहकों को तत्काल पैसे निकालने की सुविधा देने पर काम कर रहा है।

Write a comment