1. Home
  2. News And Views
  3. News
  4. देश की पहली बुलेट ट्रेन में होंगी ये खासियतें, किराया भी होगा लक्‍जरी बस से कुछ ही ज्‍यादा

देश की पहली बुलेट ट्रेन में होंगी ये खासियतें, किराया भी होगा लक्‍जरी बस से कुछ ही ज्‍यादा

जापान ने इस बुलेट ट्रेन परियोजना के लिए 0.1 फीसदी के ब्‍याज पर 88,000 रुपए का कर्ज दे रहा है जिसका पुनर्भुगतान 50 वर्षों में किया जाना है।

Manish Mishra | Sep 14, 2017 | 12:33 PM
देश की पहली बुलेट ट्रेन में होंगी ये खासियतें, किराया भी होगा लक्‍जरी बस से कुछ ही ज्‍यादा

नई दिल्‍ली। गुरुवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और जापान के प्रधानमंत्री शिंजो आबे ने अहमदाबाद-मुंबई बुलेट ट्रेन परियोजना की आधारशिला रखी। आपको बता दें कि जापान ने इस बुलेट ट्रेन परियोजना के लिए 0.1 फीसदी के ब्‍याज पर 88,000 रुपए का कर्ज दे रहा है जिसका पुनर्भुगतान 50 वर्षों में किया जाना है। इस बुलेट ट्रेन परियोजना की कुल लागत 1,10,000 करोड़ रुपए होगी यानि प्रति वर्ष लगभग 20,000 रुपए खर्च होंगे।

भारत में चलने वाली बुलेट ट्रेन के लिए जो ट्रैक को डिजाइन किया जाना है उसकी अधिकतम रफ्तार 350 किमी प्रति घंटा होगी लेकिन परियोजना पूरी होने के बाद इसी ट्रैक बुलेट ट्रेन 320 किमी प्रति घंटे की गति से दौड़ेगी।

यह भी पढ़ें : जापान की जनसंख्या के बराबर भारत में हर हफ्ते लोग रेल से करते हैं सफर, बुलेट ट्रेन पर मोदी और आबे की कही 10 बातें

अहमदाबाद से मुंबई का किराया होगा 2,700 से 3,000 रुपए

बुलेट ट्रेन शुरू होने के बाद अहमदाबाद-मुंबई या मुंबई-अहमदाबाद आने जाने के लिए आपको 2,700 रुपए से 3,000 रुपए खर्च करने पड़ सकते हैं। वहीं, इस रूट के लिए हवाई जहाज का किराया 3,500 रुपए से 4,000 रुपए है जबकि लक्‍जरी बस का किराया 1,500 रुपए से 2,000 रुपए तक है। आपको बता दें कि सड़क या रेल के माध्‍यम से इस रूट पर ट्रैवल करने में जितना वक्‍त लगता है, बुलेट ट्रेन शुरू होने के बाद 70 फीसदी समय की बचत होगी।

इन स्‍टेशनों पर रुकेगी बुलेट ट्रेन

परियोजना पूरी होने के बाद बुलेट ट्रेन साबरमती रेलवे स्‍टेशन से बांद्रा कुर्लाकुर्ला कॉम्‍प्‍लैक्‍स मुंबई की 508 किमी की दूरी तय करेगी। चार स्‍टेशनों पर रुकते हुए बुलेट ट्रेन यह दूरी 2 घंटे 7 मिनट में पूरी करेगी। वैसे 12 स्‍टेशन प्रस्‍तावित हैं। इनमें बांद्रा कुर्ला, ठाणे, विरार, भोइसर, वापी, बिलिमोर, सूरत, भरूच, वडोदरा, आनंदंद, अहमदाबाद और साबरमती शामिल हैं।

यह भी पढ़ें : साकार होने वाला है बुलेट ट्रेन का सपना, PM मोदी और जापान के प्रधानमंत्री शिंजो आबे ने रखी आधारशिला

बुलेट ट्रेन परियोजना में इतने मैटेरियल की होगी खपत

आपको जानकर आश्‍चर्य होगा कि इस बुलेट ट्रेन की इस परियोजना में लगभग 120 लाख घन मीटर कंक्रीट की जरूरत होगी। वहीं, 55 लाख मीट्रिक टन सीमेंट लगेगा।लगेगा। इसके अलावा, 15 लाख मीट्रिक टन स्‍टील की भी जरूरत होगी। इस बुलेट ट्रेन से एक बार में 750 लोग सफर कर पाएंगे।

Write a comment