1. Home
  2. News And Views
  3. News
  4. Apple ने बनाई दुनिया की सबसे बड़ी ईको फ्रेंडली बिल्डिंग, 32 हजार करोड़ रुपए से ज्यादा हुए खर्च

Apple ने बनाई दुनिया की सबसे बड़ी ईको फ्रेंडली बिल्डिंग, 32 हजार करोड़ रुपए से ज्यादा हुए खर्च

अमेरिकी टेक्नोलॉजी कंपनी Apple ने 32 हजार 500 करोड़ रुपए की लागत से अमेरिका के कैलिफोर्निया में दुनिया की सबसे बड़ी ईको फ्रेंडली बिल्डिंग बनाई है।

Ankit Tyagi | May 2, 2017 | 2:32 PM
Apple ने बनाई दुनिया की सबसे बड़ी ईको फ्रेंडली बिल्डिंग, 32 हजार करोड़ रुपए से ज्यादा हुए खर्च

नई दिल्ली। iPhone, iPad बनाने वाली अमेरिकन टेक्नोलॉजी कंपनी Apple ने अमेरिका के राज्य कैलिफोर्निया में दुनिया की सबसे बड़ी ईको फ्रेंडली बिल्डिंग बनाई है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक स्पेश जैसी दिखने वाली इस बिल्डिंग पर कंपनी ने 500 करोड़ डॉलर (करीब 32500 करोड़ रुपए) खर्च किए है। आपको बता दें, इस ऑफिस का पूरा डिजाइन एप्पल के संस्थापक स्टीव जॉब्स ने 2011 में बनाया था। यह ऑफिस जॉब्स का सपना माना जाता है। हालांकि, 5 अक्टूबर, 2011 को ही उनका निधन हो गया था। उनकी याद में यहां एक थिएटर भी बनाया गया है।

नए ऑफिस में एक साथ बैठ सकते है 13 हजार कर्मचारी

एप्पल के अमेरिका स्थित नए ऑफिस की फोटोज सामने आई हैं। कैलिफोर्निया के क्यूपरटिनो में बन रही इस बिल्डिंग का निर्माण लगभग पूरा हो चुका है। क्यूपरटिनो के एक्स मेयर गिलबर्ट वॉन्ग के मुताबिक, जल्द ही इस बिल्डिंग का काम पूरा हो जाएगा और ऑफिस कर्मचारियों के लिए खोल दिया जाएगा। इस नए ऑफिस में 13 हजार कर्मचारियों के बैठने की व्यवस्था की गई है। यह भी पढ़े: एप्पल लवर्स को आईफोन 8 के लिए करना होगा और इंतजार, अब नवंबर में लॉन्च होगा स्मार्टफोन

 

नई बिल्डिंग का नाम है एपल पार्क

इस नई बिल्डिंग को एपल पार्क नाम दिया गया है, जिसकी स्पेसशिप की तरह ही है। करीब 175 एकड़ में फैला यह ऑफिस दुनिया का सबसे बड़ा ईको फ्रेंडली ऑफिस है। यह भी पढ़े: Flipkart पर चल रही है Apple Days Sale, iPhone 7 व 7 Plus पर मिल रहा है 20,001 रुपए तक का डिस्‍काउंट

साल के नौ महीने ऑफिस में नहीं होगी AC चलाने की जरुरत

ऑफिस के बाहर ही नहीं, बल्कि कैंपस एरिया में इतनी हरियाली है, जो कर्मचारियों को नेचर के बिल्कुल करीब फील कराएगी।ऑफिस में प्राकृतिक हवा और रोशनी का पूरा ध्यान रखा गया है, जिसकी वजह से साल के नौ महीने ऑफिस में एसी की बहुत कम ही जरूरत होगी। यह भी पढ़े: गूगल, माइक्रोसॉफ्ट और फेसबुक के बाद अब Apple उपलब्‍ध कराएगी सैटेलाइट आधारित इंटरनेट सेवा

भूकंपरोधी है नई बिल्डिंग

इस बिल्डिंग की सबसे खास बात यह है कि इसकी नींव से 700 बेस आइसोलेशन जुड़े हैं, जिससे भूकंप आने की स्थित में भी इमारत को नुकसान नहीं होगा।आपतकालीन स्थिति से निपटने के लिए कैंपस में अस्पताल, फायर हाउस, पुलिस स्टेशन जैसी सारी सुविधाएं भी मौजूद है। यह भी पढ़े: एप्पल चौथी पीढ़ी के आईपैड की जगह लाएगा आईपैड एयर-2, अत्याधुनिक फीचर्स से होगा लैस

खर्च हुए 32 हजार 500 करोड़ रुपए

यहां एक हजार लोगों की क्षमता वाला एक ऑडिटोरियम भी बनाया गया है, जिसमें कंपनी के अधिकारी कंपनी संबंधी जानकारी मीडिया और अन्य लोगों से साझा करेंगे। बिल्डिंग की कुल लागत लगभग 32500 करोड़ रुपए(500 करोड़ डॉलर) है। चार मंजिला इमारत में दुनिया के सबसे बड़े 360 डिग्री कोड़ पर मुड़े हुए ग्लास लगाए गए हैं।