1. Home
  2. News And Views
  3. News
  4. ओवीएल को गैस ब्लॉक देने के लिए लगाई शर्त, बाजार की तीन गुणा दर लगाना चाहता है ईरान

ओवीएल को गैस ब्लॉक देने के लिए लगाई शर्त, बाजार की तीन गुणा दर लगाना चाहता है ईरान

ईरान ने ओएनजीसी विदेश लिमिटेड (ओवीएल) को फर्जाद-बी प्राकृतिक गैस-ब्लॉक आवंटित करने के लिए नई शर्त लगाई है। ईरान बाजार की तीन गुणा दर लगाना चाहता है।

Dharmender Chaudhary | May 15, 2017 | 8:06 PM
ओवीएल को गैस ब्लॉक देने के लिए लगाई शर्त, बाजार की तीन गुणा दर लगाना चाहता है ईरान

नई दिल्ली। ईरान ने ओएनजीसी विदेश लिमिटेड (ओवीएल) को फर्जाद-बी प्राकृतिक गैस-ब्लॉक आवंटित करने के लिए नई शर्त लगाई है। इसमें वह वहां की प्राकृतिक गैस के लिए भारत से इस समय विश्व बाजार में प्रचलित प्रचलित दर से तीन गुणा अधिक मूल्य चाहता है। ईरान चाहता है कि फारस की खाड़ी की इस परियोजना की गैस के लिए भारत जो भी प्राकृतिक गैस खरीदता है उसके लिए वह उसी दाम पर भुगतान करे जिस पर वह भारत कतर से गैस खरीद का दीर्घ कालिक अनुबंध कर रखा है। यह भी पढ़ें: देश की जीडीपी वृद्धि दर 7.4 फीसदी रहने का अनुमान, इंडस्ट्री और सर्विस सेक्टर में सुधार से मिलेगा सहारा

दिसंबर 2015 में संशोधित फॉर्मूला के मुताबिक भारत की पेट्रोनेट एलएनजी लिमिटेड कंपनी कतर से प्रति इकाई एमएमबीटीयू सात डॉलर से कुछ अधिक दर से गैस खरीदती है। कंपनी ने कतर से सालाना 75 लाख टन एलएनजी खरीदती है। विश्व बाजार में गैस के दाम 2.3 डॉलर प्रति एमएमबीटीयू तक आ गय हैं। इस तरह ईरान द्वारा ओवीएल से मांगा जा रहा दाम तीन गुणा है। इस समूचे घटनाक्रम से जुड़े सूत्रों के मुताबिक वैश्विक बाजार में दाम बढ़ने की सूरत में ओवीएल 4.3 डालर प्रति एमएमबीटीयू का दाम देने को तैयार है। जब दाम बढ़ते हैं तो कतर से खरीदी जाने वाली एलएनजी का दाम भी बढ़ता है।

सूत्रों के अनुसार पश्चिमी देशों द्वारा लगाये गये प्रतिबंध उठ जाने के बाद ईरान इस मामले में लगातार कठोर रवैया अपनाये हुए है। जिस क्षेत्र में ओवीएल ने खुद खोज की है उसी को लेकर अब ईरान कठोर रवैया अपना रहा है। ओवीएल ने हाल ही में फर्जाद-बी क्षेत्र से तेल-गैस उत्पादन शुरू करने के लिये 5.5 अरब डॉलर की वृहद विकास योजना सौंपी है। यह भी पढ़ें: 22 साल के इस लड़के ने 700 रुपए में दुनि‍या को साइबर हमले से बचाया

Write a comment