1. Home
  2. News And Views
  3. News
  4. Infosys ने जुलाई तक टाली कर्मचारियों की वेतन वृद्धि, केवल खराब प्रदर्शन करने वालों की होगी छुट्टी

Infosys ने जुलाई तक टाली कर्मचारियों की वेतन वृद्धि, केवल खराब प्रदर्शन करने वालों की होगी छुट्टी

इंफोसिस ने कर्मचारियों की वेतन वृद्धि फि‍लहाल टाल दी है। इसके अलावा कंपनी ने संभावित छंटनी को लेकर कर्मचारियों के बीच आशंका को दूर करने की कोशिश की है।

Abhishek Shrivastava | May 12, 2017 | 5:12 PM
Infosys ने जुलाई तक टाली कर्मचारियों की वेतन वृद्धि, केवल खराब प्रदर्शन करने वालों की होगी छुट्टी

नई दिल्‍ली। भारत की दूसरी सबसे बड़ी सॉफ्टवेयर सर्विस कंपनी इंफोसिस ने कर्मचारियों की वेतन वृद्धि फि‍लहाल टाल दी है। इसके अलावा कंपनी ने संभावित छंटनी को लेकर कर्मचारियों के बीच आशंका को दूर करने की कोशिश की है।

इंफोसिस के चीफ ऑपरेटिंग ऑफि‍सर यूबी प्रवीण राव ने कर्मचारियों को भेजे एक ई-मेल में कहा है कि इस साल भारत में जेएल-5 और इससे नीचे के कर्मचारियों के लिए वेतन वृद्धि एक जुलाई 2017 से प्रभावी होगी। शेष कर्मचारियों के लिए इससे अगली तिमाही में वेतन वृद्धि की जाएगी। उन्‍होंने कहा है कि ऐसा कंपनी के अनिश्चित माहौल तथा अमेरिका जैसे प्रमुख बजारों में वीजा संबंधी मुद्दों से निबटने में लगे होने के कारण किया गया है। यह भी पढ़ें: अगले 3 दिन में अंडमान पहुंचेगा मानसून, मौसम विभाग ने कहा- अनुकूल है परिस्थिति सही समय पर होगी बारिश

आमतौर पर हर साल अप्रैल से वेतनवृद्धि की जाती रही है लेकिन इस साल वेतनवृद्धि अगली तिमाही के लिए टाल दी गई है। इंफोसिस में दो लाख से अधिक कर्मचारी हैं। उन्होंने संभावित छंटनी को लेकर कर्मचारियों की आशंका भी दूर करने की कोशिश की लेकिन यह भी कहा कि प्रदर्शन के आधार पर कुछ छंटनी होगी, जैसा कि पहले हो चुका है।

चल रहा है छंटनी का दौर

यह फैसला ऐसे वक्त आया है जब उद्योगजगत में छंटनियों की खबर आ रही है। वैसे ज्यादातर कंपनियों ने छंटनी को प्रदर्शन के मुद्दे से जोड़ा है, लेकिन कई लोगों का मानना है कि ये कदम लागत नियंत्रित करने के मकसद से उठाए जा रहे हैं। कॉग्निजेंट ने अपने निदेशकों, सहायक उपाध्यक्षों और वरिष्ठ उपाध्यक्षों को छह से नौ महीने की तनख्वाह लेकर स्वेच्छा से कंपनी छोड़ने को कहा है। समझा जाता है विप्रो ने अपने वार्षिक मूल्यांकन के तहत करीब 600 कर्मचारियों को नौकरी छोड़ने को कहा है। यह भी पढ़ें: Airtel Offers: एक साल तक अनलिमिटेड 4G सर्विस और कॉलिंग सुविधा फ्री में देगी एयरटेल, खरीदना होगा माइक्रोमैक्‍स केनवास-2

और भी कंपनियों ने नहीं की वेतनवृद्धि

हालांकि इंफोसिस वेतनवृद्धि टालने वाली अकेली कंपनी नहीं है। टेक महिंद्रा ने छह साल से अधिक के अनुभव वाले कर्मचारियों के वेतन की अबतक समीक्षा नहीं की है। भारतीय आईटी कंपनियां अनिश्चित माहौल और अमेरिका, सिंगापुर, ऑस्ट्रेलिया एवं न्यूजीलैंड जैसे देशों में कड़े वर्क परमिट व्यवस्था के चलते गहरे दबाव से गुजर रही हैं।

Write a comment