1. Home
  2. My Profit
  3. News To Use
  4. अगर आपके पास है बिजनस का कोई यूनीक आइडिया तो सरकारी कंपनियां देंगी पैसा, जानिए क्या है स्कीम

अगर आपके पास है बिजनस का कोई यूनीक आइडिया तो सरकारी कंपनियां देंगी पैसा, जानिए क्या है स्कीम

Dharmender Chaudhary | Oct 8, 2016 | 3:51 PM
अगर आपके पास है बिजनस का कोई यूनीक आइडिया तो सरकारी कंपनियां देंगी पैसा, जानिए क्या है स्कीम
SHOW FULL IMAGE

नई दिल्ली। आप अगर अपना बिजनेस शुरू करने की सोच रहे हैं तो शानदार मौका है। इसके लिए आपको पैसा सरकारी कंपनियां देंगी, बस उनको यूनीक बिजनेस आडिया देना होगा। अगर आपका आइडिया पसंद आता है तो कंपनियां बिजनेस के लिए पैसे के साथ गाइडेंस भी देंगी। इस स्कीम को एक्सपेरिमेंटल तौर पर इंडियन ऑइल कॉर्पोरेशन (IOC) ने शुरू किया है। आईओसी ने घरेलू हाइड्रोकार्बन सेक्टर में इनोवेशन के तहत एक स्कीम लॉन्च की है।

यह भी पढ़ें: Opportunity: ब्रिटिश पेट्रोलियम को भारत में 3,500 पेट्रोल पंप खोलने की मिली मंजूरी, पैदा होंगे रोजगार के अवसर

ऐसी होगी स्कीम

  • इस स्कीम के तहत सरकारी कंपनियां बिजनस के लिए नए आइडिया आमंत्रित करेंगी।
  • जो कंपनी जिस सेक्टर में काम करती है, वह उसी सेक्टर में नए बिजनस मॉडल पर विचार करेगी।
  • उदाहरण के तौर पर अगर कोई कंपनी स्टील सेक्टर में कार्यरत है तो वह इस सेक्टर में नए बिजनस आइडिया को आमंत्रित करेगी।
  • आइडिया पसंद आने पर उस व्यक्ति का फाइनैंशल और एजुकेशनल बैकग्राउंड देखा जाएगा।
  • उसके आधार पर तय किया जाएगा कि उसके बिजनस आइडिया को किस तरह से आगे बढ़ाया जा सकता है।

तस्वीरों में देखिए इंडियन ऑयल से जुड़े रोचक तथ्य

यह भी पढ़ें: सावधान! पेट्रोल पंप वाले इन 7 तरीकों से ऐसे देते हैं आपको धोखा, हमेशा रखें इन बातों का ख्याल

इंडियन ऑइल ने बनाया 30 करोड़ का फंड

  • इंडियन ऑइल ने घरेलू हाइड्रोकार्बन सेक्टर में इनोवेशन के तहत एक स्कीम लॉन्च की है।
  • कंपनी ने इसके लिए 30 करोड़ रुपये का फंड बनाया है।
  • कंपनी पहले राउंड में ओपन इनोवेशन चैलेंज के जरिए 9 प्रपोजल, टेक्नॉलजी प्रॉसेस री-इंजीनियरिंग (टीपीआरई) सेलेक्ट करेगी।
  • इसके अलावा 6 प्रपोजल, बिजनस प्रॉसेस री-इंजीनियरिंग (बीपीआरई) के लिए सेलेक्ट करेगी।
  • इन सेक्टरों में नए बिजनस आइडिया को आमंत्रित किया जाएगा।
  • जिनका बिजनस मॉडल पसंद आएगा, उनको यह काम करने के लिए 2 करोड़ रुपये दिए जाएंगे।

श्रम मंत्री बंडारू दत्तात्रेय ने कहा कि देश में मार्केट का विस्तार तभी होगा, जब देश में उद्यमी बढ़ेंगे। ऐसे कई सेक्टर हैं, जहां बिजनस करने और विकसित करने की अपार संभावनाएं मौजूद हैं। इसके लिए युवाओं को आगे बढ़ाने और उनको वित्तीय सहायता देने की जरूरत है और यह काम सरकार कर रही है।

क्या आप कर सकते हैं अप्‍लाई?

  • सलेक्‍टर आइडिया को भविष्‍य में इक्विटी पार्टिसिपेशन यानी स्‍टेकहोल्डिंग के मैथेड पर कमर्शियल यूज के लिए लाया जाएगा।
  • इस स्‍कीम के तहत, ऐसे एकेडमिक इंस्‍टीट्यूशंस जहां सेंट्रल गर्वनमेंट या इंडियन ऑयल के इंट्राप्रेन्‍योर्स द्वारा अप्रूव्‍ड इन्‍क्‍यूबेशन सेंटर है।
  • उनसे जुड़े लोग अप्‍लाई कर सकते हैं। इसके अलावा, भारत में काम करने के इच्‍छा रखने वाले भारतीय मूल के नागरिक भी इस स्‍कीम के तहत अप्‍लाई कर सकते हैं।