1. Home
  2. News And Views
  3. News
  4. आईडीबीआई बैंक ने बनायी पुनरूद्धार योजना, एनपीए वसूली पर देगा ध्यान

आईडीबीआई बैंक ने बनायी पुनरूद्धार योजना, एनपीए वसूली पर देगा ध्यान

IDBI Bank ने कहा कि उसने पूंजीगत आधार बढ़ाने और फंसे ऋण की वसूली पर ध्यान केंद्रित करते हुए एक पुनरूद्धार रणनीति तैयार की है।

Dharmender Chaudhary | May 25, 2017 | 7:29 PM
आईडीबीआई बैंक ने बनायी पुनरूद्धार योजना, एनपीए वसूली पर देगा ध्यान

मुंबई। लाभ में गिरावट और ऋण वसूली की स्थिति बिगड़ने से प्रभावित सरकारी क्षेत्र के आईडीबीआई बैंक (IDBI Bank) ने कहा कि उसने पूंजीगत आधार बढ़ाने और फंसे ऋण की वसूली पर ध्यान केंद्रित करते हुए एक पुनरूद्धार रणनीति तैयार की है। बैंक के नवनियुक्त प्रबंध निदेशक और मुख्य कार्यकारी अधिकारी महेश कुमार जैन ने एक बयान में कहा, हम अपनी पूंजीगत स्थिति में सुधार तथा ऋण वसूली की स्थिति को पटरी पर लाने के लिए सभी उपायों पर गौर कर रहे हैं। यह भी पढ़ें: जेटली से हाइब्रिड वाहनों पर टैक्स घटाने का आग्रह करेंगे गडकरी, जीएसटी में 43 फीसदी तक का है प्रावधान

मार्च, 2017 को समाप्त 2016-17 की चौथी तिमाही में बैंक को 5,158 करोड़ रुपए का शुद्ध घाटा हुआ है जबकि 2015-16 की चौथी तिमाही में उसे 3,665 करोड़ रुपए का शुद्ध नुकसान हुआ था। वर्ष 2016-17 की चौथी तिमाही में बैंक के सकल ऋण पर कल एनपीए पिछले वित्त वर्ष की इसी अवधि के 10.98 फीसद से करीब दोगुना होकर 21.25 फीसद हो गया। 2016-17 की चौथी तिमाही में शुद्ध एनपीए उसके पिछले वित्त वर्ष की इसी तिमाही के 6.78 फीसद से बढ़कर 13.21 फीसद हो गया।

जैन ने कहा कि हम स्थिति से उबरने की आक्रामक नीति पर चलेंगे और व्यय में कटौती उपाय करेंगे तथा बही खाता को दुरूस्त कर अपनी जोखिम परसंपत्तियों की बेहतरी पर मंथन करेंगे ताकि पूंजी पर दबाव कम हो। बैंक के लाभ और ऋण वसूली की स्थिति बिगड़ने पर मूडीज, इंडिया रेटिंग और इकरा ने बैंक की रेटिंग घटा दी है। यह भी पढ़ें: 15 जून तक आएगी DDA की नई हाउसिंग स्‍कीम, जानिए क्‍या हैं इसके लिए नए नियम और शर्तें

Write a comment