1. Home
  2. News And Views
  3. News
  4. GST परिषद हाइब्रिड कारों पर भारी शुल्क लगाने के कदम पर कर सकती है पुनर्विचार, कम हो सकता है टैक्‍स

GST परिषद हाइब्रिड कारों पर भारी शुल्क लगाने के कदम पर कर सकती है पुनर्विचार, कम हो सकता है टैक्‍स

वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी) परिषद अपनी अगले सप्ताह होने वाली अगली बैठक में हाइब्रिड कारों पर 43 प्रतिशत टैक्‍स के प्रस्ताव पर पुनर्विचार कर सकती है।

Abhishek Shrivastava | May 24, 2017 | 6:13 PM
GST परिषद हाइब्रिड कारों पर भारी शुल्क लगाने के कदम पर कर सकती है पुनर्विचार, कम हो सकता है टैक्‍स

नई दिल्‍ली। वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी) परिषद अपनी अगले सप्ताह होने वाली अगली बैठक में हाइब्रिड कारों पर 43 प्रतिशत टैक्‍स के प्रस्ताव पर पुनर्विचार कर सकती है। वाहन उद्योग ने दरों में इतनी अधिक बढ़ोतरी पर निराशा जताई है।

परिषद द्वारा पिछले सप्ताह जो टैक्‍स की दरें तय की गई हैं, उसमें मध्यम और बड़े आकार की हाइब्रिड कारों के लिए टैक्‍स की दर यात्री कारों के समान रखी गई है। जीएसटी व्यवस्था में हाइब्रिड वाहनों पर कुल टैक्‍स बढ़कर 43 प्रतिशत पर पहुंच जाएगा। अभी इन वाहनों पर प्रभावी दर 30.3 प्रतिशत की है। यह भी पढ़ें: निसान भारतीय बाजार में पेश करेगी हाइब्रिड एक्‍स-ट्रेल एसयूवी, इस साल हो सकती है लॉन्‍च

राजस्व विभाग के एक अधिकारी ने कहा कि हाइब्रिड वाहनों पर टैक्‍स का प्रभाव बढ़ जाएगा। हम उद्योग द्वारा साझा की गई चिंताओं को पढ़ रहे हैं। परिषद 3 जून की अपनी अगली बैठक में इस पर पुनर्विचार कर सकती है। वाहन उद्योग के सूत्रों ने कहा कि वे इस बारे में वित्त मंत्रालय को पत्र लिखकर अपनी स्थिति रखेंगे और यह बताएंगे कि यह किस तरह से सरकार की वैकल्पिक ऊर्जा को प्रोत्साहन देने की योजना में बाधक बनेगा। यह भी पढ़ें:  GST से ऐसे सस्ते होंगे स्मार्टफोन्स और ये चीजें, सरकार ने समझाया टैक्स का पूरा गणित

वर्तमान में टोयोटा और होंडा द्वारा हाइब्रिड कारों की बिक्री भारत में की जा रही है, जिनकी कीमत 31.98 लाख रुपए से लेकर 38.96 लाख रुपए तक है। हाईब्रिड वाहनों पर मौजूदा समय में 12.5 प्रतिशत एक्‍साइज ड्यूटी लगती है। हालांकि इन्‍हें इंफ्रास्‍ट्रक्‍चर सेस से छूट मिली हुई हैं लेकिन इन पर एक प्रतिशत नेशनल केलामिटी कनटिनजेंट ड्यूटी, 2 प्रतिशत सेंट्रल सेल्‍स टैक्‍स और 12.5 प्रतिशत वैट लगता है। इस तरह कुल मिलाकर इन पर 30.3 प्रतिशत टैक्‍स लगता है।

Write a comment