1. Home
  2. News And Views
  3. News
  4. मोबाइल फोन मैन्‍युफैक्‍चरिंग के लिए चरणबद्ध योजना को नोटिफाई करेगी सरकार, कंपनियों को मिलेगा टैक्‍स बेनीफिट

मोबाइल फोन मैन्‍युफैक्‍चरिंग के लिए चरणबद्ध योजना को नोटिफाई करेगी सरकार, कंपनियों को मिलेगा टैक्‍स बेनीफिट

इलेक्ट्रॉनिक्स एवं आईटी मंत्रालय देश में मोबाइल फोन की मैन्‍युफैक्‍चरिंग को सस्ता करने के लिए जल्द ही एक चरणबद्ध योजना को नोटिफाई करने की तैयारी में है।

Manish Mishra | May 2, 2017 | 8:55 AM
मोबाइल फोन मैन्‍युफैक्‍चरिंग के लिए चरणबद्ध योजना को नोटिफाई करेगी सरकार, कंपनियों को मिलेगा टैक्‍स बेनीफिट

नई दिल्‍ली। इलेक्ट्रॉनिक्स एवं आईटी मंत्रालय देश में मोबाइल फोन की मैन्‍युफैक्‍चरिंग को सस्ता करने के लिए जल्द ही एक चरणबद्ध योजना को नोटिफाई करने की तैयारी में है। इसमें टैक्‍स बेनीफिट और अन्य प्रोत्साहनों जैसी सुविधाएं दी जाएंगी। मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने इस बात की पुष्टि की है। नोटिफिकेशन में सरकार की देश में मोबाइल फोन मैन्‍युफैक्‍चरिंग को बढ़ावा देने की प्रतिबद्धता दिखेगी।

यह भी पढ़ें : ये हैं 7,000 रुपए से कम कीमत के फीचर पैक्‍ड स्मार्टफोन, 4G VoLTE की सुविधा से हैं लैस

मोबाइल विनिर्माण कंपनियों के संगठन इंडियन सेल्युलर एसोसिएशन के राष्ट्रीय अध्यक्ष पंकज महिंद्रू ने कहा कि ‘चरणबद्ध विनिर्माण कार्यक्रम’ (PMP) प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के ‘मेक इन इंडिया’ और ‘डिजिटल इंडिया’ कार्यक्रम में एक मील का पत्थर होगा। वहीं PMP-2 पर काम जारी है जो इस क्षेत्र में 39-50 प्रतिशत का मूल्यवर्धन करने का प्रस्ताव करती है।

फोन ग्राहकों की संख्‍या में हुआ इजाफा

ट्राई के अनुसार जनवरी, 2017 के अंत तक देश में फोन ग्राहकों की संख्या 117.48 करोड़ थी जो फरवरी के अंत तक बढ़कर 118.85 करोड़ हो गई। शहरी क्षेत्रों में फोन कनेक्शनों की संख्या 1.6 प्रतिशत बढ़कर 69.21 करोड़ से अधिक हो गई, जो जनवरी के अंत तक 68.11 करोड़ थी। इसी तरह ग्रामीण क्षेत्रों में फोन कनेक्शनों की संख्या 0.56 प्रतिशत की वृद्धि के साथ 49.63 करोड़ रही, जो उससे पिछले महीने के अंत तक 49.36 करोड़ थी।

यह भी पढ़ें : Jio के बाद RCom का धमाकेदार ऑफर, 149 रुपए में मिलेगा 70 दिनों के लिए 70GB डाटा

भारतीय दूरसंचार बाजार चीन के बाद दूसरे नंबर पर है। फरवरी में कुल मिलाकर मोबाइल ग्राहकों की संख्या में 1.37 करोड़ का इजाफा हुआ। इससे मोबाइल ग्राहकों की संख्या बढ़कर 1.16 अरब हो गई। वहीं लैंडलाइन फोन कनेक्शनों की संख्या 2.43 करोड़ पर स्थिर रही।