1. Home
  2. My Profit
  3. Wallet
  4. सरकार ने कहा GSTIN के लिए न मचाएं हड़बड़ी, शुरू में अंतरिम आईडी से ही चल जाएगा काम

सरकार ने कहा GSTIN के लिए न मचाएं हड़बड़ी, शुरू में अंतरिम आईडी से ही चल जाएगा काम

सरकार ने स्‍पष्‍ट किया है कि जिन व्यापारियों ने पंजीकरण प्रक्रिया पूरी नहीं की है वे अंतरिम आईडी का इस्तेमाल कर अपना कारोबार करना जारी रख सकते हैं।

Sachin Chaturvedi | Jun 20, 2017 | 10:08 AM
सरकार ने कहा GSTIN के लिए न मचाएं हड़बड़ी, शुरू में अंतरिम आईडी से ही चल जाएगा काम

नयी दिल्ली। जैसे जैसे जीएसटी लागू होने की तारीख निकट आ रही है, कारोबारियों में जीएसटी नेटवर्क में रजिस्‍ट्रेशन को लेकर हड़बड़ी भी बढ़ रही है। इसी बीच सरकार ने स्‍पष्‍ट किया है कि जिन व्यापारियों एवं डीलरों ने जीएसटी नेटवर्क में अपने पंजीकरण प्रक्रिया पूरी नहीं की है वे अंतरिम आईडी का इस्तेमाल कर जीएसटी व्यवस्था के तहत अपना कारोबार करना जारी रख सकते हैं।

केंद्रीय राजस्व सचिव हसमुख अधिया ने कहा है कि पंद्रह अंकों वाला यह अंतरिम आईडी शुरुआती कुछ महीनों के लिए वस्‍तु एवं सेवा कर प्रदाता पहचान क्रमांग (एसटीआईएन) के रुप में काम करेगा। अधिया ने कहा कि कारोबारियों को घबराने की जरुरत नहीं है और पंजीकरण के लिए आपाधापी करने की आवश्यकता नहीं है, जिन डीलरों और काराबारियों को अंतरिम आईडी मिल गया है वे नयी अप्रत्यक्ष कर व्यवस्था में अपना कारोबार कर सकते हैं। यह भी पढ़ें: 3 और 4 स्‍टार होटलों को GST से राहत, अब 7500 रुपए तक के रूम पर 28 की जगह 18% टैक्‍स

उन्होंने कहा, आप अंतरिम आईडी का इस्तेमाल कर अपना कारोबार करना जारी रख सकते हैं और जीएसटीआईएन का सभी कारोबारों में उल्लेख कर सकते हैं। आपको अंतिम जीएसटीआईएन का इंतजार नहीं करना है। यदि आपने अपना ब्योरा नहीं भी दिया है तो भी आप अपना कारोबार करना जारी रख सकते हैं। लोगों को घबराने की जरुरत नहीं है। फिलहाल 80.91 लाख उत्पाद, सेवा शुल्क और वैट कर दाताओं में से 65.6 लाख यानी 81 फीसदी पहले ही जीएसटीएन पोर्टल पर पहुंच चुके हैं। यह भी पढ़ें: एसोचैम ने की GST टालने की मांग, सूचना प्रौद्योगिकी नेटवर्क 1 जुलाई के लिए नहीं है तैयार

Write a comment