1. Home
  2. My Profit
  3. Stocks
  4. कंपनियों के नतीजों और वैश्विक संकेतों से तय होगी बाजार की दिशा, डेरिवेटिव अनुबंधों के निपटान पर भी रहेगी नजर

कंपनियों के नतीजों और वैश्विक संकेतों से तय होगी बाजार की दिशा, डेरिवेटिव अनुबंधों के निपटान पर भी रहेगी नजर

डेरिवेटिव अनुबंधों के निपटान से शेयर बाजार में उतार चढ़ाव रहने की संभावना है। इसके अलावा बाजार बड़ी कंपनियों के तिमाही परिणामों से भी संकेत ग्रहण करेंगे।

Dharmender Chaudhary | May 21, 2017 | 11:49 AM
कंपनियों के नतीजों और वैश्विक संकेतों से तय होगी बाजार की दिशा, डेरिवेटिव अनुबंधों के निपटान पर भी रहेगी नजर

नई दिल्ली। चालू सप्ताह में डेरिवेटिव अनुबंधों के निपटान की वजह से शेयर बाजार में उतार चढ़ाव रहने की संभावना है। इसके अलावा बाजार टाटा मोटर्स, आईटीसी और सन फार्मा जैसी बड़ी कंपनियों के तिमाही परिणामों और वैश्विक रूख से भी संकेत ग्रहण करेंगे। शेयर बाजार विशेषज्ञों ने यह राय जताई है। यह भी पढ़ें: सोमवार से मुंबई-गोवा के बीच दौड़ेगी पहली तेजस एक्सप्रेस, वाईफाई, एलसीडी के साथ मिलेंगी तमाम लग्‍जरी स‍ुविधाएं

आम्रपाली आद्या ट्रेडिंग एंड इन्वेस्टमेंट्स के निदेशक एवं शोध प्रमुख अबिनाश कुमार सुधांशु ने कहा, आगे चलकर वायदा एवं विकल्प अनुबंध की सीमा गुरुवार को समाप्त होगी इसलिए सप्ताह के दौरान बाजार में उतार चढ़ाव रह सकता है। अमेरिकी बाजार में बढ़ती राजनीतिक अनिश्चितता के वातावरण के कारण वैश्विक बाजार बुरी तरह से प्रभावित हो सकता है। उन्होंने कहा, कंपनियों के नतीजों की घोषणाएं जारी हैं। इसलिए आगे की दिशा लेने के लिए हम सब की नजर कंपनियों के प्रदर्शन पर टिकी हैं।

ट्रेड स्मार्ट ऑनलाइन के संस्थापक निदेशक विजय सिंघानिया ने कहा, चार सफलतापूर्ण सत्रों के दौर में सेंसेक्स के रिकॉर्ड ऊंचाई तक चढ़ने के बाद हम चालू सप्ताह में पर्याप्त उतार चढ़ाव का सामना कर सकते हैं। सेंसेक्स की इस तेजी ने तो भारत को विश्व में सर्वाधिक महंगा शेयर बाजार बना दिया है। उन्होंने कहा कि कारोबारी वायदा एवं विकल्प खंड में अपने सौदों को आगे ले जायेंगे इसलिए बाजार में उतार चढ़ाव अधिक रहेगा।

शेयर बाजार के आगे की दिशा निगमित कंपनियों के परिणाम, मुद्रा की घट बढ़ और वैश्विक बाजारों का रूख निर्धारित करेंगे। चालू सप्ताह में गेल, टाटा मोटर्स, ल्यूपिन, इंडियन ऑयल कॉरपोरेशन, आईटीसी, टेक महिन्द्रा और सन फार्मास्युटिकल इंडस्ट्रीज जैसी प्रमुख कंपनियों के नतीजे आएंगे। यह भी पढ़ें: 1 जुलाई से थीम पार्क में घूमने पर लगेगा 28 फीसदी टैक्स, ये सेवाएं हुई GST से बाहर

Write a comment