1. Home
  2. News And Views
  3. News
  4. सोमवार से मुंबई-गोवा के बीच दौड़ेगी पहली तेजस एक्सप्रेस, वाईफाई, एलसीडी के साथ मिलेंगी तमाम लग्‍जरी स‍ुविधाएं

सोमवार से मुंबई-गोवा के बीच दौड़ेगी पहली तेजस एक्सप्रेस, वाईफाई, एलसीडी के साथ मिलेंगी तमाम लग्‍जरी स‍ुविधाएं

विमान जैसी सुविधाओं से लैस पहली लग्‍जरी ट्रेन तेजस एक्सप्रेस 22 मई से मुंबई और गोवा के बीच दौड़ लगाएगी। रेल मंत्री सुरेश प्रभु इसे हरी झंडी दिखाएंगे।

Abhishek Shrivastava | May 20, 2017 | 6:09 PM
सोमवार से मुंबई-गोवा के बीच दौड़ेगी पहली तेजस एक्सप्रेस, वाईफाई, एलसीडी के साथ मिलेंगी तमाम लग्‍जरी स‍ुविधाएं

नई दिल्‍ली। विमान जैसी सुविधाओं से लैस पहली लग्‍जरी ट्रेन तेजस एक्सप्रेस 22 मई से मुंबई और गोवा के बीच दौड़ने लगेगी। सोमवार को रेल मंत्री सुरेश प्रभु ट्रेन को हरी झंडी दिखाकर रवाना करेंगे। आपको बता दें कि तेजस ट्रेन में हर सीट पर LCD स्क्रीन और वाई-फाई फैसिलिटी होगी। साथ ही, ट्रेन में टी-कॉफी वेंडिंग मशीनें भी लगाई गई है। इसकी खास बात यह है कि ये देश की पहली ट्रेन होगी, जिसके सभी कोच में ऑटोमैटिक डोर के साथ ही सुरक्षित गैंगवेज (डिब्बों के बीच के कॉरिडोर्स) होंगे। अभी ऑटोमैटिक डोर मेट्रो ट्रेन में होते है। यह भी पढ़े: ट्रेन से सफर करना होगा महंगा, रेलवे लगाने जा रहा है सेफ्टी सेस

No

प्रीमियर क्‍लास ट्रेन में होंगी ये सुविधाएं

रेल मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी के अनुसार, तेजस एक्‍सप्रेस एक नई प्रीमियर क्लास ट्रेन है। इसमें चाय, कॉफी वेंडिंग मशीन, मैगजींस, स्नैक्स टेबल सहित कई सुविधाएं होंगी। इसके अलावा ट्रेन में बायो वैक्यूम टॉयलेट्स, टॉयलेट इंगेजमेंट बोर्ड, हैंड ड्रायर, सेंसराइज्ड टैप, वाई-फाई सहित कई विशेष सुविधाएं भी होंगी। यह भी पढ़े: अब Rupay क्रेडिट कार्ड से होगा बस और ट्रेनों के किराए का भुगतान, NPCI ने बैंकों से मिलाया हाथ

No

अधिकारी ने कहा कि मनोरंजन के उद्देश्य से लगाई जाने वाली LCD स्क्रीन का इस्तेमाल यात्रियों से संबंधित सूचना एवं सुरक्षा निर्देशों के प्रसार के लिए भी किया जाएगा। राजधानी और शताब्दी ट्रेनों की तरह ही कैटरिंग सेवा तेजस के किराए में शामिल होगी। इसमें एक्जिक्यूटिव क्लास एवं चेयर कार कोच लगे होंगे।

मुंबई-गोवा के बाद दिल्ली-चंडीगढ़ रूट पर दौड़ेगी ये ट्रेन

बजट में किए गए वादे के मुताबिक, मुंबई-गोवा के बाद दूसरी तेजस ट्रेन को दिल्ली-चंडीगढ़ रूट पर चलाए जाने के आसार हैं। ट्रेन की पहली रैक को RCF (रेल कोच फैक्ट्री) कपूरथला में तैयार किया गया है।जर्मनी में की पटरी पर दौड़ी पहली हाइड्रोजन ट्रेन, धुएं की जगह निकलता है भाप और पानी

No
Write a comment