1. Home
  2. News And Views
  3. News
  4. NPA अध्यादेश पर दिशानिर्देश 15 दिन में जारी करेगा RBI, डूबे कर्ज की वसूली प्रक्रिया में आएगी तेजी

NPA अध्यादेश पर दिशानिर्देश 15 दिन में जारी करेगा RBI, डूबे कर्ज की वसूली प्रक्रिया में आएगी तेजी

डूबे कर्ज की वसूली प्रक्रिया में तेजी लाने के लिए RBI, NPA पर अध्यादेश को परिचालन में लाने के लिए अगले 15 दिनों में दिशानिर्देश जारी करेगा।

Abhishek Shrivastava | May 22, 2017 | 5:21 PM
NPA अध्यादेश पर दिशानिर्देश 15 दिन में जारी करेगा RBI,  डूबे कर्ज की वसूली प्रक्रिया में आएगी तेजी

नई दिल्ली। डूबे कर्ज की वसूली प्रक्रिया में तेजी लाने के लिए भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) गैर-निष्‍पादित परिसंपत्त्यिों (NPA) पर अध्यादेश को परिचालन में लाने के लिए अगले 15 दिनों में दिशानिर्देश जारी करेगा। बैंकों की गैर निष्पादित आस्तियां (एनपीए) आठ लाख करोड़ रुपए के आंकड़े को पार कर गई हैं।

सूत्रों ने बताया कि इसकी रूपरेखा में एनपीए से संबंधित मुद्दों की पहचान के लिए एक अलग प्रकोष्ठ के गठन की व्यवस्था होगी। साथ ही इसमें निपटान प्रक्रिया के लिए एक निश्चित समयसीमा का प्रावधान भी होगा। यह समयसीमा 60 से 90 दिन की हो सकती है। रिजर्व बैंक एक विशेष प्रकोष्ठ के गठन पर भी विचार कर रहा है, जो किसी कंपनी के पुनरोद्धार या अधिग्रहण से संबंधित मामलों की पहचान करेगा। यह भी पढ़ें: पैसेंजर कार बाजार में अल्‍टो की बादशाहत को लगा झटका, अप्रैल में बेस्‍ट सेलिंग मॉडल बनी मारुति स्विफ्ट

इसके अलावा वह किसी बैंक को कोई मामला दिवाला एवं शोधन के लिए भेजने के लिए भी कह सकता है। सरकार द्वारा रिजर्व बैंक को बैंकों को दिवाला एवं शोधन की प्रक्रिया शुरू करने का अधिकार दिए जाने के बाद केंद्रीय बैंक ने एनपीए निपटान के लिए करीब 50 मामलों की पहचान की है।

वित्त मंत्रालय के एक अधिकारी ने कहा, ऐसे मामले जिनकी संयुक्त ऋणदाता मंच (जेएलएफ) द्वारा समीक्षा की जा चुकी है, लेकिन उन पर निष्कर्ष नहीं निकला है, ऐसे मामलों को रिजर्व बैंक उठाएगा और बैंकों को निपटान के लिए कहेगा। सूत्रों ने बताया कि पहले चरण में भूषण स्टील और जीवीके पावर जैसे 10 से 12 मामलों को लिया जा सकता है।

Write a comment