1. Home
  2. My Profit
  3. Retirement
  4. EPFO चालू वित्‍त वर्ष के दौरान ETF में करेगा 22,500 करोड़ रुपए का निवेश, 4 करोड़ सदस्‍यों को होगा फायदा

EPFO चालू वित्‍त वर्ष के दौरान ETF में करेगा 22,500 करोड़ रुपए का निवेश, 4 करोड़ सदस्‍यों को होगा फायदा

कर्मचारी भविष्‍य निधि संगठन (EPFO) चालू वित्‍त वर्ष के दौरान तकरीबन 22,500 करोड़ रुपए एक्‍सचेंज ट्रेडेड फंड्स (ETFs) में निवेश करेगा।

Abhishek Shrivastava | Jun 11, 2017 | 12:18 PM
EPFO चालू वित्‍त वर्ष के दौरान ETF में करेगा 22,500 करोड़ रुपए का निवेश, 4 करोड़ सदस्‍यों को होगा फायदा

नई दिल्‍ली। कर्मचारी भविष्‍य निधि संगठन (EPFO) चालू वित्‍त वर्ष के दौरान तकरीबन 22,500 करोड़ रुपए एक्‍सचेंज ट्रेडेड फंड्स (ETFs) में निवेश करेगा। एक वरिष्‍ठ अधिकारी ने बताया कि बोर्ड ट्रस्टियों ने इक्विटी या इक्विटी लिंक्‍ड स्‍कीम में निवेश बढ़ाने के प्रस्‍ताव को अपनी मंजूरी दे दी है।

पिछले महीने, ईपीएफओ की प्रमुख निर्णय लेने वाली संस्‍था ने एक्‍सचेंज ट्रेडेड फंड्स में निवेश की सीमा 10 प्रतिशत से बढ़ाकर 15 प्रतिशत करने के प्रस्‍ताव को मंजूरी प्रदान कर दी है। ईपीएफओ ने 2016-17 में 1.5 लाख करोड़ रुपए का निवेश किया है। चालू वित्‍त वर्ष के दौरान भी निवेश योग्‍य राशि 1.5 लाख करोड़ रुपए रहने का अनुमान है। ईपीएफओ के सेंट्रल प्रोवीडेंट फंड कमिश्‍नर वीपी जॉय ने बताया कि इस साल ईपीएफओ द्वारा 22,500 करोड़ रुपए का निवेश ईटीएफ में किया जाएगा।

उन्‍होंने आगे कहा कि ईपीएफओ ने अब तक ईपीएफ में 23,000 करोड़ रुपए का निवेश किया है। इन निवेश पर वार्षिक रिटर्न अब तक 12 प्रतिशत से अधिक रहा है। ईपीएफओ ने सरकारी प्रतिभूतियों, राज्‍य ऋण, कॉरपोरेट बांड्स और अन्‍य जैसे स्‍पेशल डिपोजिट स्‍कीम में निवेश किया है। ईपीएफओ को अपने कुछ निवेश पर, खासकर सरकारी बांड्स और योजनाओं में, उसे 8 प्रतिशत से कम का रिटर्न मिला है। यह भी पढ़ें:  Summer Sale: Flipkart और Shopclues ने पेश किया बंपर ऑफर, मिल रहा है 80 प्रतिशत तक डिस्काउंट

ईपीएफओ ने अगस्‍त 2015 में 5 प्रतिशत निवेश राशि के साथ स्‍टॉक मार्केट में प्रवेश किया था। 2016 में इस सीमा को बढ़ाकर 10 प्रतिशत किया गया था। 2015 में वित्‍त मंत्रालय ने प्राइवेट प्रोवीडेंट फंड्स को उनकी निवेश योग्‍य जमा का 5-15 प्रतिशत तक इक्विटी या इक्विटी लिंक्‍ड स्‍कीम में निवेश करने की अनुमति दी थी।

Write a comment