1. Home
  2. My Profit
  3. Insurance
  4. समझ-बूझ कर खरीदें जीवन बीमा पॉलिसी के साथ राइडर, नहीं तो बढ़ जाएगा प्रीमियम का बोझ

समझ-बूझ कर खरीदें जीवन बीमा पॉलिसी के साथ राइडर, नहीं तो बढ़ जाएगा प्रीमियम का बोझ

जीवन बीमा पॉलिसी के साथ अतिरिक्‍त लाभ देने वाले विशेष पॉलिसी को राइडर कहते हैं। आज हम ऐसे ही कुछ लोकप्रिय राइडर के बारे में बताने जा रहे हैं...

Dharmender Chaudhary | Jan 10, 2017 | 12:44 PM
समझ-बूझ कर खरीदें जीवन बीमा पॉलिसी के साथ राइडर, नहीं तो बढ़ जाएगा प्रीमियम का बोझ

नई दिल्‍ली। आम तौर पर जब आप जीवन बीमा खरीदने जाते हैं तो एजेंट आपको कई अतिरिक्‍त फायदों के बारे में बताता है। जैसे दुर्घटना में मौत होने पर बीमा की दोगुनी रकम परिवार को मिलेगी या अस्‍पताल में भर्ती होने पर रोजाना कुछ पैसे मिलेंगे। किसी पॉलिसी के साथ अतिरिक्‍त लाभ देने वाले इन विशेष पॉलिसी को राइडर कहते हैं। आज हम ऐसे ही कुछ लोकप्रिय राइडर के बारे में बताने जा रहे हैं ताकि आप जीवन बीमा खरीदते समय इनका चयन अपनी जरूरत के अनुसार कर सकें।

यह भी पढ़ें : एड-ऑन कवर ऐसे बढ़ाते हैं कार इंश्‍योरेंस के प्रीमियम का बोझ, अपनाएं ये तरीके नहीं खर्च करने होंगे ज्‍यादा पैसे

राइडर खरीदने के लिए देने होते हैं अतिरिक्‍त पैसे

राइडर्स को खरीदने के लिए आपको अतिरिक्त लागत चुकानी पड़ती है और सभी बीमा कंपनियों के राइडर्स की लागत भिन्न-भिन्न होती है। यह आयु, स्वास्थ्य और पॉलिसी के प्रकार जैसे अन्य कारकों पर भी निर्भर करता है। नीचे कुछ राइडर्स दिए गए हैं जिन्हें खरीदकर व्यक्ति की प्राथमिक जीवन बीमा पॉलिसी के साथ उनके लाभ के आधार पर खरीदा जा सकता है।

एक्सीडेंटल डेथ बेनेफिट (एडीबी) राइडर

यह राइडर इंश्‍योर्ड व्यक्ति की दुर्घटना में मौत होने पर लाभ प्रदान करता है। इंश्‍योर्ड व्‍यक्ति के नॉमिनी को एकमुश्त राशि दी जाती है यानि सामान्य सम एश्योर्ड के अतिरिक्त राइडर लेने के समय उल्लिखित अतिरिक्त राशि। यह राइडर बाहरी, अज्ञात कारणों से दुर्घटना के कारण हुई मौत में लाभदायक सिद्ध होते हैं। इन राइडर का भारत में काफी महत्व है, क्योंकि देश में दुर्घटना के कारण होने वाली मौतों की संख्या में लगातार बढ़ोतरी हो रही है।

क्रिटिकल इलनेस राइडर

कोई भी जीवन बीमा पॉलिसी किसी भी हेल्‍थ इमरजेंसी के दौरान कवर उपलब्ध नहीं कराती। लेकिन क्रिटिकल इलनेस राइडर के रूप में एक अतिरिक्त राइडर खरीदा जा सकता है और इसे प्राथमिक जीवन बीमा पॉलिसी से जोड़ा जा सकता है। कैंसर, किडनी फेल्योर, लिवर ट्रांसप्‍लांट अथवा किसी अन्य बड़े अंग के ट्रांसप्‍लांट, हार्ट फेल्‍योर, आघात जैसी सूचीबद्ध क्रिटिकल बीमारी के मामले में, यह राइडर व्यक्ति को चिकित्सा उपचार के लिए एकमुश्त रकम उपलब्ध कराता है। इसलिए, यह राइडर व्यक्ति पर पड़ने वाले वित्तीय बोझ को कम कर सकता है।

यह भी पढ़ें : अगर बीमा कंपनियों के रवैये से हैं परेशान तो यहां करें शिकायत, जल्‍द होगा समस्‍याओं का समाधान

परमानेंट डिसैबिलिटी राइडर

यह राइडर बीमित को कोई स्थायी विकलांगता होने के मामले में नियमित आय उपलब्ध कराता है। यह राइडर मुख्यतः ऐसे लोगों के लिए है जो दुर्घटना के कारण स्थायी रूप से विकलांग हो गए हैं अथवा जीविकोपार्जन करने में सक्षम नहीं हैं। इसलिए, यह राइडर पॉलिसी की नियम एवं शर्तों के मुताबिक बीमित को जीवित रहने के लाभ प्रदान करता है।

हॉस्पिटल कैश बेनिफिट राइडर

हॉस्पिटल कैश बेनिफिट राइडर अचानक अस्पताल में भर्ती होने पर आपको नकद की सुविधा प्रदान करता है। हालांकि, इसके लिए अस्पताल में 24 घंटे या उससे अधिक समय तक रहना अनिवार्य है। इस नकदी से इंश्‍योर्ड व्‍यक्ति अस्पताल के खर्च का भुगतान कर सकता है और उस पर पड़ने वाला आर्थिक प्रभाव कम हो जाता है।

टर्म कन्वर्जन राइडर

इस राइडर के जरिए इंश्‍योर्ड व्‍यक्ति अपनी तय अवधि वाली टर्म लाइफ जीवन बीमा पॉलिसी को स्थाई जीवन बीमा पॉलिसी में परिवर्तित करवा सकते हैं। व्यक्ति टर्म इंश्योरेंस को व्‍होल लाइफ अथवा यूनिवर्सल लाइफ पॉलिसी में परिवर्तित कर सकते हैं। इस राइडर का सबसे महत्वपूर्ण पहलू यह है कि पॉलिसी परिवर्तित करवाने में किसी अतिरिक्त चिकित्सा जांच अथवा परीक्षा की आवश्यकता नहीं पड़ती।

राइडर लेने से पहले इन बातों का रखें ध्‍यान

राइडर लेने से पहले किसी व्यक्ति को अपनी उम्र, परिवार में बीमारी के इतिहास और पॉलिसी के प्रकार जैसे विभिन्न कारकों पर अवश्य ध्यान देना चाहिए। इन राइडर से संबंधित लागत पर विचार करना महत्वपूर्ण है, क्योंकि बीमा कंपनियां राइडर के लिए भारी-भरकम राशि वसूलती हैं। यही नहीं, यह राइडर आयकर कानून के अंतर्गत छूट भी प्रदान करते हैं।

Write a comment