1. Home
  2. My Profit
  3. News To Use
  4. भारत में 99 प्रतिशत शहरी बच्चे करते हैं इंटरनेट का इस्तेमाल, साइबर अपराधियों के जाल में फंसने का यह है कारण

भारत में 99 प्रतिशत शहरी बच्चे करते हैं इंटरनेट का इस्तेमाल, साइबर अपराधियों के जाल में फंसने का यह है कारण

भारत के शहरी क्षेत्रों में 98.8 प्रतिशत बच्चे इंटरनेट का इस्तेमाल करते हैं और इनमें से 54.6 प्रतिशत बच्‍चों के पासवर्ड काफी कमजोर होते हैं।

Abhishek Shrivastava | May 5, 2017 | 1:20 PM
भारत में 99 प्रतिशत शहरी बच्चे करते हैं इंटरनेट का इस्तेमाल, साइबर अपराधियों के जाल में फंसने का यह है कारण

नई दिल्ली। भारत के शहरी क्षेत्रों में 98.8 प्रतिशत बच्चे इंटरनेट का इस्तेमाल करते हैं और इनमें से 54.6 प्रतिशत बच्‍चों के पासवर्ड काफी कमजोर होते हैं, जिसकी वजह से उनके साइबर अपराधियों के जाल में फंसने का अंदेशा बना रहता है। एक सर्वे में यह तथ्य सामने आया है।

टेलीनॉर इंडिया द्वारा देश के 13 शहरों में 2,700 छात्र-छात्राओं के बीच यह सर्वेक्षण किया गया। टेलीनॉर इंडिया की वेबवाइज रिपोर्ट के अनुसार 98.8 प्रतिशत शहरी बच्चे इंटरनेट का इस्तेमाल कर रहे हैं। इनमें से 54.6 प्रतिशत बच्‍चों का इंटरनेट पासवर्ड काफी कमजोर होता है। इसमें सिर्फ शब्दों या अंकों का इस्तेमाल किया गया होता है। वह भी आठ से कम अक्षरों में।

यह भी पढ़ें: चंद सेकेंड में डाउनलोड होगा अब 1 GB का वीडियो, Reliance Jio जून में शुरू कर सकता है नई सर्विस

सर्वे में कहा गया है कि 54.82 प्रतिशत बच्चे अपने पासवर्ड को दोस्‍तों, परिवार या रिश्तेदारों से साझा करते हैं। वेबवाइज की रिपोर्ट के अनुसार 6 से 18 साल तक के 83.5 प्रतिशत बच्चे सोशल मीडिया पर सक्रिय हैं, जिससे उनके साइबर अपराध का शिकार होने का जोखिम अधिक है।

अध्ययन के अनुसार 35 प्रतिशत बच्‍चों ने कहा कि उनके अकाउंट को हैक किया गया, जबकि 15.74 प्रतिशत ने कहा कि उन्हें कई बार अनुचित प्रकार के मैसेज मिले हैं। टेलीनॉर इंडिया कम्‍यूनिकेशन के चीफ एग्‍जीक्‍यूटिव ऑफि‍सर शरद मेहरोत्रा ने कहा कि भारत दुनिया का दूसरा सबसे बड़ा इंटरनेट जनसंख्‍या वाला देश है, अधिकांश यूजर्स, विशेषकर बच्‍चे, कमजोर और आसान पासवर्ड की वजह से सायबर हमले के शिकार बन रहे हैं।

Write a comment